1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

उपजाऊ जमीन का अधिग्रहण न होः सोनिया गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा है कि उद्योगों के लिए ली जाने वाली ज़मीन में उपजाऊ और खेती योग्य ज़मीन का नुकसान नहीं होना चाहिए. भूमि अधिग्रहण के दौरान इस बात का ध्यान रखने की बात सोनिया गांधी ने कही.

default

सोनिया दादरी के नेशनल थर्मल पॉवर प्लांट के उद्घाटन के बाद कहा, "नए उद्योग और मूलभूत संरचनाएं बिना भूमि अधिग्रहण के नहीं की जा सकतीं. इस पर तो कोई मतभेद ही नहीं है लेकिन अधिग्रहण इस तरह से किया जाना चाहिए कि बड़ी मात्रा में उपजाऊ और खेती योग्य जमीन का नुकसान न हो." एनटीपीसी का स्टेज दो का ये प्रोजेक्ट कॉमनवेल्थ खेलों के दौरान बिजली सप्लाई करेगा.
सोनिया गांधी की ये टिप्पणी हाल ही के भूमि अधिग्रहण मामले के मद्देनज़र अहम है. उत्तर प्रदेश के किसानों को उचित मुआवजे के बारे में पधानमंत्री मनमोहन सिंह और राहुल गांधी की मुलाकात हुई थी. इस मुद्दे पर आश्वासन दिया गया कि सरकार भूमि अधिग्रहण पर नया कानून लाएगी.

सोनिया गांधी ने कहा, "जहां किसानो की जमीन ली गई है वहां किसानों को उचित मुआवजा मिलना चाहिए और वैकल्पिक नौकरी भी."

उनका कहना था कि हरियाणा जैसे राज्यों में जमीन अधिग्रहण के मामले में प्रगतिशील कानून हैं और दूसरे राज्यों को भी ऐसा ही करना चाहिए.
पर्यावरण के मुद्दे पर सोनिया ने कहा, "हमें निश्चित ही और ऊर्जा की जरूरत है ताकि किसानों, उद्योगों और कारखानों की जरूरतें पूरी हो सकें लेकिन टिकाऊ विकास के लिए हमें पर्यावरण की सुरक्षा पर भी ध्यान देना होगा. जो भी हम करें हमें नहीं भूलना चाहिए कि जंगल, पहाड़ हमारे लिए आवश्यक हैं. उनकी सुरक्षा हमारी जिम्मेदारी है ताकि साफ पानी और हवा हमें मिले."

रिपोर्टः पीटीआई/आभा एम

संपादनः ए जमाल

DW.COM

WWW-Links