1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

उत्तर भारत में पारा लुढ़का, अब तक 27 मरे

पूरे उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड पड़ रही है और इसकी चपेट में आकर अब तक 27 लोगों की मौत हो चुकी है. इनमें से आठ लोगों की मौत तो पिछले दो दिनों के भीतर हुई है.

default

ठंड से सबसे ज्यादा लोगों की मौत उत्तर प्रदेश में हुई है. राजधानी लखनऊ में एक अधिकारी ने बताया कि पिछले हफ्ते राज्य में अलग अलग जगहों पर 24 लोगों की मौत ठंड के कारण हुई है. पिछले दो दिनों में पांच लोग ठंड का शिकार हुए. इनमें 70 साल के एक बुजुर्ग और 2 साल का बच्चा भी शामिल है. मरने वालों में ज्यादातर बेघर लोग हैं जो रात सड़कों पर बिताते हैं. स्थानीय प्रशासन को बेघर लोगों के लिए रात गुजारने की जगह का इंतजाम करने के आदेश दे दिए गए हैं.

जम्मू कश्मीर में रविवार को ठंड से 3 लोगों की मौत हो गई. राज्य के कुछ हिस्सों में तापमान गिर कर शून्य से 23.6 डिग्री तक नीचे चला गया है. उधर हिमाचल प्रदेश में भी ताजा बर्फबारी के बाद तामान काफी नीचे चला गया है. शिमला और आसपास के इलाकों में तो लोग पानी के

Flash-Galerie Indien Kälte

लिए भी तरस कर रह गए क्योंकि नल से आने वाला पानी पाइपलाइन में ही जम गया. शिमला की सड़कों पर गाड़ियों की लंबी लंबी कतारें लगी हैं क्योंकि कई जगहों पर भारी बर्फबारी से रास्ता बंद हो गया है. इस बीच तूफान आने की आशंका ने लोगों की चिंता और बढ़ा दी है.

मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक दिल्ली में भी तापमान इस मौसम में सामान्य से दो डिग्री नीचे चला गया है. भारी धुंध और कोहरे के कारण लोगों के रोजमर्रा के कामकाज पर बुरा असर पड़ा है. पंजाब में अमृतसर समेत उत्तर भारत के कई शहरों में तापामान शून्य के नीचे भी चला गया है. मैदानी इलाके में पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा ठंड पड़ी है. इन इलाकों से गुजरने वाली रेल गाड़ियों का टाइम टेबल गड़बड़ा गया है. ज्यादातर गाड़ियां लेट चल रही हैं. मौसम विभाग का कहना है कि अभी आने वाले कुछ और दिनों तक इसी तरह की ठंढ के जारी रहने के आसार हैं.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः ए कुमार

DW.COM

WWW-Links