1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

ई-बुक्स की बिक्री ने हार्ड कवर किताबों को पीछे छोड़ा

डिजिटल किताबें अब हार्ड कवर वाली किताबों से ज्यादा बिक रही हैं. अमेजन डॉट कॉम का दावा है कि तीन महीनों में हार्ड कवर वाली किताबों की तुलना में ई-बुक्स की बिक्री ज्यादा हुई है. किंडल डिवाइस के दाम घटे तो बढ़ी बिक्री.

default

किंडल डिवाइस पर पढ़िए किताबें

इस साल अप्रैल से जून के बीच अमेजन डॉट कॉम ने हार्ड कवर वाली किताबों की तुलना में 43 फीसदी ज्यादा डिजिटल किताबें बेचने का दावा किया है. इन डिजिटल किताबों को ई-बुक्स कहा जाता है. अमेजन का दावा है कि हार्ड कवर वाली किताब पढ़ने के बजाए लोग अब किंडल डिवाइस के सहारे डिजिटल किताबें ज्यादा पढ़ रहे हैं. और इसलिए ज्यादा ई-बुक्स बिक रही हैं.

Bücherstapel

किंडल एक ऐसा सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर प्लेटफॉर्म है जिसकी डिस्पले स्क्रीन पर लोग किताबें पढ़ सकते हैं. तीन साल पहले किताब पढ़ने के लिए किंडल डिवाइस को ईजाद किया गया जिसकी डिस्पले स्क्रीन पर आराम से किताब पढ़ी जा सकती है. यानी कुर्सी पर बैठे या बिस्तरों में दुबके लोगों के हाथ किताब की जगह किंडल डिवाइस ने ले ली और पन्नों को उलटने के बजाए उसे स्क्रॉल करना जरूरी हो गया. अमेजन की मानें तो किंडल का उसे फायदा भी हुआ है और उसकी बिक्री बढ़ी है.

सिर्फ जून महीने में डिजिटल किताबें हार्डबैक कवर वाली किताबों की तुलना में 80 फीसदी ज्यादा बिकीं. हालांकि कंपनी ने अभी तक बिक्री का पूरा विवरण देने के लिए सेल्स डाटा नहीं दिया है. माना जा रहा है कि किंडल डिवाइस की कीमतों में आई गिरावट भी डिजिटल किताबों के ज्यादा बिकने की वजह हो सकती है. अमेजन डॉट कॉम की ओर से जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में वेबसाइट के संस्थापक और चीफ एक्जीक्यूटिव जैफ बेजोस ने बताया, "किंडल डिवाइस की बिक्री तीन गुना बढ़ी है. पहले इसकी कीमत 259 डॉलर रखी गई लेकिन अब यह 189 डॉलर में बिक रहा है."

किंडल किताबों को एप्पल के आईफोन, आईपैड और लैपटॉप पर भी पढ़ा जा सकता है. अमेजन वेबसाइट पर 630,000 ई-बुक्स उपलब्ध हैं जिनमें पांच लाख से ज्यादा किताबों की कीमत 10 डॉलर से कम है. अमेजन की हार्डबैक कवर वाली किताबों की कीमत नहीं बताई गई है. अमेजन की ओर जारी आंकड़ों में पेपरबैक किताबों की बिक्री शामिल नहीं की गई है. पेपरबैक किताबों से ही किताबों के बाजार में दो तिहाई पैसा आता है और ऐसा लगता है कि पेपरबैक को पीछे छोड़ने के लिए किंडल को अभी लंबा सफर तय करना है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: उभ

संबंधित सामग्री