1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ईयू देगा पाकिस्तान को व्यापार में छूट

यूरोपीय संघ ने प्रतिबद्धता जताई है कि वह पाकिस्तान को तुरंत और सीमित समय के लिए व्यापार में छूट देगा ताकि देश फिर खड़ा हो सके. पाकिस्तान में आई भयावह बाढ़ के कारण यूरोपीय संघ ने यह फैसला किया है.

default

इस फैसले पर ईयू देशों के विदेश मंत्रियों ने मुहर लगाई और राष्ट्राध्यक्षों ने इसका समर्थन किया है. पाकिस्तान को विश्व व्यापार संगठन की छूट दी जाएगी जिसमें कुछ समय के लिए मुख्य निर्यात उत्पादों के शुल्कों में कमी की जाती है.

इसमें खासकर कपड़ा उद्योग को छूट मिलती है. इस कारण पाकिस्तान को लाखों यूरो की अतिरिक्त कमाई होगी. हालांकि इस छूट का इटली और फ्रांस ने विरोध किया क्योंकि उन्हें डर है कि इस छूट का चीन और भारत फायदा उठा सकते हैं.

लेकिन इस चिंता को दरकिनार करने के लिए यूरोपीय संघ में फैसला लिया कि ये छूट सिर्फ पाकिस्तान के लिए ही होगी. फैसले में तय किया गया है कि टैरिफ में कमी विश्व व्यापार संगठन के नियमों के हिसाब से की जाएगी. यूरोपीय आयोग ने चेतावनी दी थी कि व्यापार में पाकिस्तान के प्रतिद्वंद्वी देश इसे चुनौती दे सकते हैं.

NO FLASH Hochwasser in Pakistan

आयोग ने अगले महीने रिपोर्ट देने के लिए कहा है कि पाकिस्तान में कौन कौन से उत्पादों पर छूट दी जाएगी. ब्रिटेन के विदेश मंत्री विलियम हेग ने उम्मीद जाहिर की कि 15 अक्तूबर को होने वाली फ्रेंड्स ऑफ डिप्लोमेटिक पाकिस्तान की बैठक से पहले इस बारे में फैसला कर लिया जाएगा.

यूरोपीय संघ के नेताओं ने पाकिस्तान 2014 को लंबे समय के लिए यूरोपीय संघ के खास व्यापार लाभ पैकेज जीएसपी प्लस में शामिल करने पर भी सहमति जताई. गैर सरकारी संगठन ऑक्सफेम ने भी इस छूट का स्वागत किया है. ये समझौता ऐसे वक्त हुआ है जब ब्रिटेन और यूरोपीय संघ की विदेश नीति प्रभारी कैथरीन एशटन उदार उपायों पर जोर दे रहे थे.

रिपोर्टः एजेसियां/आभा एम

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links