1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

ईयू चुनाव की दस दिलचस्प बातें

यूरोपीय संसद के चुनाव शुरू हो गए हैं. गुरूवार से रविवार तक हो रहे चुनावों के नतीजे रविवार को मतदान केंद्रों के बंद होने के बाद आना शुरू होंगे. यूरोपीय संघ के 28 देश इसमें हिस्सा ले रहे हैं. जानिए इन चुनावों के कुछ तथ्य.

1. तारीख

ये चुनाव 22 से 25 मई तक चलेंगे. अलग अलग दिन 38 करोड़ से ज्यादा मतदाता चुनाव में हिस्सा लेंगे. ब्रिटेन और नीदरलैंड्स में 22 मई, आयरलैंड और चेक गणराज्य में 23 मई और लातविया, माल्टा और स्लोवाकिया में 24 मई को मतदान होंगे. जर्मनी सहित बाकी के 21 देश रविवार, 25 मई को मत डालेंगे.

2. सांसद

किस देश को संसद में कितनी सीटें मिलती हैं, यह वहां की आबादी के हिसाब से तय किया गया है. कुल 751 सांसद चुने जाएंगे. इनमें से सबसे ज्यादा 96 जर्मनी के हैं. इसके बाद 74 सांसदों के साथ फ्रांस का नंबर है और फिर 73 के साथ ब्रिटेन और इटली का.

3. कार्यकाल

सांसदों को पांच साल के लिए चुना जाता है. 1979 में सीधे चुनाव की यह प्रक्रिया शुरू हुई. उससे पहले तक अलग अलग देशों के सांसद ही यूरोपीय संसद का भी हिस्सा बनते थे. यूरोपीय संसद के इतिहास में आठवीं बार चुनाव हो रहे हैं.

Europawahlkampf Debatte Jean-Claude Juncker Martin Schulz

मार्टिन शुल्त्स और जां क्लोद युंकर

4. वोट देना जरूरी

सदस्य देशों में चुनाव की अपनी अपनी विधि है. चार देशों, बेल्जियम, साइप्रस, ग्रीस और लक्जेमबर्ग में वोट देना अनिवार्य है. हालांकि कुल मिला कर अब पहले की तुलना में कम वोट पड़ रहे हैं. 1979 में 63 फीसदी वोट पड़े, जबकि बीस साल बाद यह संख्या 43 फीसदी हो गयी.

5. सात पार्टियां

यूरोपीय संसद में पार्टियां देशों के हिसाब से नहीं, विचारधाराओं के हिसाब से बंटी हुई हैं. यूरोपियन पीपुल्स पार्टी (ईपीपी) रूढ़िवादी विचारधारा की है. इसके बाद हैं समाजवादी पार्टी सोशलिस्ट्स एंड डेमोक्रैट्स (एसएंडडी), उदारवादी पार्टी (एएलडीई), ग्रीन पार्टी, वामपंथी पार्टी (जीयूई/एनजीएल). छोटी पार्टियों में ईसीआर और ईएफडी शामिल हैं. उग्रदक्षिणपंथी भी एक नई पार्टी बनाने पर विचार कर रहे हैं.

6. चुनाव के बाद

चुनाव के बाद यूरोपीय संसद, यूरोपीय परिषद और यूरोपीय आयोग के अध्यक्षों का निर्वाचन होगा. सदस्य देशों के सरकार प्रमुखों को लोगों की पसंद का भी ध्यान रखना होगा. मंगलवार से ही इस पर चर्चा शुरू हो जाएगी.

7. संसद प्रमुख

संसद का पहला सत्र जुलाई में होगा. 1 से 3 जुलाई के बीच तय किया जाएगा कि संसद का नया अध्यक्ष कौन होगा. अब तक यह पद ईपीपी और एसएंडडी आधे आधे कार्यकाल के लिए बांट कर संभाला है.

8. परिषद अध्यक्ष

नवंबर में यूरोपीय परिषद के नए अध्यक्ष की घोषणा की जाएगी. यूरोपीय संघ के सदस्य देशों के प्रमुखों को मिल कर इस पर विचार करना होगा कि यह जिम्मेदारी किसे दी जाएगी.

9. यूरोपीय आयोग

28 सदस्यों वाले आयोग के लिए भी अध्यक्ष चुना जाएगा. इसके बाद बाकी के 27 सदस्यों के काम बांटे जाएंगे. आयोग के पास नए कानून के प्रस्ताव देने और विदेश नीति बनाने जैसे महत्वपूर्ण काम हैं.

10. ब्रसेल्स और स्ट्रासबुर्ग

यूरोपीय संसद का साल में 12 अधिवेशन फ्रांस के स्ट्रासबुर्ग में होता है जबकि समितियों का काम बेल्जियम की राजधानी ब्रसेल्स में होता है. इसलिए हर महीने सांसदों समेत 5000 सरकारी अधिकारियों और अनुवादकों को दोनों जगहों के बीच सफर करते रहना पड़ता है.

आईबी/एमजे (एएफपी)

संबंधित सामग्री