1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

इस सीरीज के हीरो तो सचिन ही होंगे

न्यूजीलैंड के खिलाफ गुरुवार से भारत की तीन टेस्ट मैचों की सीरीज शुरू होनी है. लेकिन खेल शुरू होने से पहले ही तय हो गया है कि सीरीज में सबकी निगाहें तेंदुलकर पर लगी रहेंगी.

default

37 साल के तेंदुलकर इस वक्त जिस तरह खेल रहे हैं उसके बाद यह जाहिर हो गया है कि न्यूजीलैंड के गेंदबाजों के सामने तगड़ी चुनौती होगी. इस साल अब तक 9 टेस्ट मैचों में सचिन 1270 रन बना चुके हैं. और उनका औसत है 97.69.

14 हजार रन और 49 शतक बना चुका टेस्ट क्रिकेट का यह बादशाह जब बांग्लादेश के हाथों हारकर आई न्यूजीलैंड के सामने होगा तो उनके बल्ले से निकले रन रिकॉर्ड का अंबार लगा सकते हैं. अभी तेंदुलकर को इस साल पांच टेस्ट मैच खेलने हैं. इस सीरीज के बाद उन्हें दक्षिण अफ्रीका जाना है दो टेस्ट मैचों की सीरीज खेलने. यानी उनके पास एक साल में सबसे ज्यादा रन (1768) का मोहम्मद यूसुफ का रिकॉर्ड तोड़ने का बढ़िया मौका है.

Indischer Cricketspieler Sachin Tendulkar

लेकिन इस साल छह सेंचुरी लगा चुके सचिन तो अभी दक्षिण अफ्रीका के बारे में सोचना ही नहीं चाहते. वह कहते हैं, "मैं तो अभी इस सीरीज के तीन टेस्ट मैचों के बारे में ही सोच रहा हूं."

न्यूजीलैंड की टीम के साथ सचिन के रिश्ते भी कुछ खट्टे मीठे से हैं. कीवी टीम के खिलाफ खेले 19 टेस्ट मैचों में उन्होंने 52 के औसत से 1406 रन बनाए हैं. लेकिन कई बार वह संघर्ष करते भी देखे गए. न्यूजीलैंड की टीम सात साल पहले टेस्ट मैच खेलने भारत आई थी. तब सचिन चार पारियों में कुल 71 रन ही बना सके थे.

और वैसे भी दबाव सचिन पर ही ज्यादा होगा. क्योंकि कीवी टीम अगर इस सीरीज को ड्रॉ कराने में भी कामयाब हो जाती है तो उनके लिए यह जीत से कम नहीं होगा. भारत में उनका रिकॉर्ड कोई अच्छा नहीं है. अब तक वे यहां एक भी सीरीज नहीं जीत पाए हैं. इस वक्त उनकी टीम में कप्तान डेनियल वेटोरी के अलावा कोई ऐसा खिलाड़ी नहीं है जिसने भारत में एक भी टेस्ट मैच खेला हो.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः एन रंजन

DW.COM

WWW-Links