1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

इस्राएल ने भारत से जताया अफसोस

नौसैनिक हमले के प्रकरण के चलते कड़ी अंतरराष्ट्रीय आलोचना से तिलमिलाकर इस्राएल द्वारा भारत को घसीटे जाने के बाद अब उसके राजदूत ने अपने विदेश मंत्री के बयान पर गहरा अफ़सोस जताया है.

default

नेतानयाहू : आलोचना करने वाले पाखंडी

इस्राएल के विवादास्पद विदेश मंत्री आविगडोर लीबरमान्न ने गजा के लिए मदद खेप ले जा रहे जहाज पर हमले के बाद हुई आलोचना में भारत की मिसाल दी थी. संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून से उन्होंने कहा था कि कुछ एक लोगों की मौत पर इस्राएल की आलोचना की जा रही है, जबकि भारत और पाकिस्तान में पिछले एक महीने में 500 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.

अब भारत में इस्राएल के राजदूत मार्क सोफेर ने पत्रकारों से कहा है कि यह एक अफ़सोसनाक गलती थी. इस्राएल भारत को उस नजर से नहीं देखता है, जिस तरह से वह अपने दुश्मनों से पेश आता है. उन्होंने कहा कि भारत का नाम विदेश मंत्री के भाषण से हटा लिया गया है. साथ ही उन्होंने संकेत दिया कि उनके देश की ओर से औपचारिक रूप से माफी मांगी जा सकती है. उनका कहना था कि गलतफहमी दूर करने के लिए जल्द ही कदम उठाए जाने वाले हैं.

इस बीच गजा की नाकेबंदी का बचाव करते हुए इस्राएली प्रधानमंत्री बेन्यामिन नेतनयाहू ने कहा है कि यह सुरक्षा के लिए जरूरी है और बनी रहेगी. 9 लोगों की मौत पर सारे विश्व में हो रहे विरोध के बाद टेलिविजन पर भाषण देते हुए उन्होंने कहा कि नाकेबंदी ढीली करने पर हमास के हाथों में ईरान के मिसाइल होंगे.

इस्राएली नौसैनिक हमले की निंदा करने वाले विभिन्न देशों के नेताओं को आड़े हाथों लेते हुए उन्होंने कहा कि वे दोहरा मापदंड अपना रहे हैं और अपनी रक्षा के इस्राएल के अधिकार पर सवालिया निशान लगा रहे हैं. उनका कहना है कि डंडों और चाकुओं से लैस लोगों से अपने बचाव के लिए कमांडो के सैनिकों को गोली चलानी पड़ी. नेतनयाहू ने कहा कि फिर एक बार इस्राएल को पाखंड और पक्षपात का सामना करना पड़ रहा है.

ब्रिटिश मंत्री विलियम हेग ने कहा है कि लंदन और वॉशिंगटन के बीच इस पर बात चल रही है कि गजा के आम नागरिकों की तकलीफ घटाने के लिए क्या किया जा सकता है. संसद में उन्होंने कहा कि नाकेबंदी की वजह से एक अस्वीकार्य और तकलीफदेह स्थिति पैदा हो गई है. इस बीच संयुक्त राष्ट्र के महासचिव बान की मून ने इस्राएल से मांग की है कि वह गज़ा पट्टी की नाकेबंदी ख़त्म करे.

रिपोर्ट: एजेंसियां/उभ

संपादन: एस गौड़

संबंधित सामग्री