1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

इस्राएल ने छोड़ा जासूसी उपग्रह

ईरान के विवादित परमाणु कार्यक्रम की जासूसी करने के लिए इस्राएल ने एक उपग्रह छोड़ा. उपग्रह ईरान के परमाणु ठिकानों पर नजर रखेगा. सैटेलाइट पर विशेष किस्म के कैमरे लगाए गए हैं.

default

इस्राएल के रक्षा मंत्रालय ने सरकारी रेडियो पर एक बयान जारी किया. बयान में कहा गया है कि, ''पलमश्चिम बेस से इस्राएल ने एक ओफेक-9 सैटेलाइट लॉन्च किया है. लॉन्चिंग प्रक्रिया की निगरानी तकनीकी टीम कर रही है.''

सैटेलाइट के बारे और कोई भी जानकारी नहीं दी गई है. सरकारी रेडियो के एक कार्यक्रम में यह कहा गया कि ओफेक श्रेणी का सैटेलाइट बेहद साफ तस्वीरें ले सकता है. सैटेलाइट को ईरान के परमाणु कार्यक्रम पर नजर रखने के लिए भेजा गया है. सैटेलाइट को इस्राएल की एयरक्राफ्ट इंडस्ट्री ने तैयार किया है.

इस्राएल आरोप लगाता रहा है कि ईरान परमाणु हथियार बना रहा है. कट्टरपंथी माने जाने वाले ईरान के राष्ट्रपति महमूद अहमदीनेजाद के दोबारा सत्ता में आने की वजह से इस्राएल का यह डर और भी बढ़ गया है. यही वजह है कि इस्राएल ने जासूसी करने वाले उपग्रह कार्यक्रम पर तेजी से काम करना शुरू कर दिया है. इस वक्त अंतरिक्ष में इस्राएल के छह जासूसी उपग्रह हैं. यह भी सभी ओफेक-9 श्रेणी के हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: आभा एम

संबंधित सामग्री