1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

इस्तीफा नहीं देंगे येदियुरप्पा

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने अपने पद से इस्तीफा देने से साफ साफ मना कर दिया है. इससे पहले राज्य के गवर्नर हंसराज भारद्वाज ने मुख्यमंत्री के खिलाफ जमीन घोटला मामले में मुकदमा चलाने की अनुमति दी थी.

default

जमीन घोटाले और भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे येदियुरप्पा ने अपना पद छोड़ने से साफ मना कर दिया है. एक संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने कहा, "मैं ऐसा क्यों करूं? अगर कोई (मुख्यमंत्री के खिलाफ) शिकायत दर्ज करता है, तो क्या किसी ने अब तक इस्तीफा दिया है? मैं ऐसा क्यों करूं?" हालांकि एक पत्रकार के सवालों से वह मुकर गए जब पत्रकार ने 1997 में चारा घोटाले के आरोपों में बिहार के तब के मुख्यमंत्री लालू यादव के इस्तीफे की बात की. 1997 में लालू के खिलाफ गैर जमानती गिरफ्तारी का वारंट जारी किया था.

BJP Bharatiy Janta Party Kandidat für den Wahlkreis Chapra Rajiv Pratap Rudy

बीजेपी प्रवक्ता रूडी

उधर बीजेपी प्रवक्ता राजीव प्रताप रूडी ने भी येदियुरप्पा के साथ समर्थन जताते हुए कहा कि राज्यपाल भारद्वाज मामले की तहकीकात खुद करने की कोशिश कर रहे हैं और यह असंवैधानिक है. "राज्यपाल भारद्वाज खुद ही शिकायकर्ता की भूमिका निभा रहे हैं और वह जांच भी कर रहे हैं. उनकी कार्रवाई सरकारी वकील की तरह है और वह इस मामले में खुद ही जज हैं. क्या लोकतंत्र में इस स्तर की असंवैधानिकता को देखा गया है?"

रूडी ने कहा कि येदियुरप्पा इन आरोपों के बावजूद अपनी जिम्मेदारी निभाते रहेंगे. पार्टी कार्यकर्ता राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल से 24 जनवरी को मुलाकात कर रहे हैं जहां वे राज्यपाल भारद्वाज को वापस बुलवाने की मांग करेंगे.

रूडी का कहना है कि राजपाल को हार माननी ही पड़ेगी." हमने ऐसे मामले पहले भी देखे हैं, जैसा कि झारखंड में राजपाल सिब्ते रजी, बिहार में बूटा सिंह और गोवा में एससी जामीर. उन सब को मूंह की खानी पड़ी." रूडी ने भारद्वाज पर आरोप लगाया कि उन्होंने 2010 में कर्नाटक में राष्ट्रपति शासन लागू करने का सुझाव दिया था. रूडी का कहना है कि इस सुझाव के खारिज हो दाने के बाद अब सरकार को अस्थिर करना भारद्वाज की चाल है.

रिपोर्टः पीटीआई/एमजी

संपादनः एन रंजन

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री