1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

इस्तीफा देने का सवाल ही नहीं उठताः मोदी

चौतरफा दबाव के बावजूद आईपीएल के कमिश्नर ललित मोदी ने कहा है कि वह इस्तीफा नहीं देंगे. इस बीच कहा जा रहा है कि मोदी को हटाने की पूरी तैयारी हो गई है और शरद पवार ने भी इसके लिए हरी झंडी दिखा दी है.

default

छुट्टी लगभग तय

दुबई से लौटकर मुंबई एयरपोर्ट पर मोदी ने पत्रकारों से कहा, "इस्तीफा देने का कोई सवाल ही नहीं है. मैं गवर्निंग काउंसिल की बैठक में अपना पक्ष रखूंगा." बताया जाता है कि 26 अप्रैल को होने वाली इस बैठक में मोदी से अपना पद छोड़ने को कहा जाएगा.

मंगलवार को दिन भर बीसीसीआई के अधिकारियों की बैठक होती रही जिसमें आईपीएल विवाद के सभी पहलुओं पर चर्चा की गई और साथ ही इस बात पर विचार किया गया कि मोदी के साथ किस तरह पेश आएं. बीसीसीआई के मुखिया शशांक मनोहर ने केंद्रीय मंत्री और आईसीसी के निर्वाचित अध्यक्ष शरद पवार को इस बारे में जानकारी दी.

बीसीसीआई के एक सूत्र ने बताया है कि मुंबई में होने वाली आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की बैठक में मोदी से इस्तीफा देने को कहा जाएगा और इसके लिए शरद पवार की तरफ से भी हरी झंडी मिल गई है. बीसीसीआई नेतृत्व मानता है कि मोदी पर जिस तरह के आरोप लगे हैं, ऐसे में उनका जाना ही आईपीएल के लिए ठीक है. इसके बाद ही सब कुछ दुरुस्त करने की प्रक्रिया शुरू हो सकती है.

इस बीच बीसीसीआई में मोदी के लिए समर्थन लगातार कम हो रहा है. ऐसे में, उनके कमिश्नर पद पर बने रहने की संभावना लगभग खत्म हो गई है. कहा जा रहा है कि कोच्चि फ्रैंचाइजी से शुरू हुए विवाद के फैलते दायरे को देखते हुए शरद पवार मोदी को इस्तीफा देने के लिए राज़ी करेंगे. पवार मोदी के नजदीकी समझे जाते हैं.

वैसे पवार और शशांक मनोहर के बीच क्या बातचीत हुई, इस बारे में अधिकारिक तौर पर कुछ नहीं कहा गया है. सिर्फ एक बयान में यह कहा गया है कि गवर्निंग काउंसिल की बैठक में ही एकराय से कोई सामूहिक फैसला लिया जाएगा. पवार ने बीसीसीआई के अध्यक्ष मनोहर से मुलाकात करने से पहले वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी और गृह मंत्री पी चिदंबरम से भी मुलाकात की.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः प्रिया एसेलबोर्न

संबंधित सामग्री