1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

इसरो भेजेगा यूथ सैटेलाइट

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन, इसरो 2011-12 में यूथ सैटेलाइट अंतरिक्ष में भेजेगा. इसे सिंगापुर विश्वविद्यालय के छात्रों ने बनाया है. सैटेलाइट का नाम रिसोर्स सैट-2 रखा गया है. यह अपनी तरह का दूसरा सैटेलाइट है.

default

यह सैटेलाइट 2003 में भेजे गए रिसोर्स सैट 1 का अगला संस्करण है. इससे वनस्पति, फसल की पैदावार, और आपात प्रबंधन सहायता के बारे में सूचना और तस्वीरें इकट्ठी की जाती हैं. इसरो के चेयरमैन के डॉ के राधाकृष्णन ने बताया कि यह यूथ सैटेलाइट के पहले संस्करण की जगह लेगा.

Indien Frankreich Raumfahrt Präsident Nicolas Sarkozy in Bangalore

फ्रांस और भारत का साझा काम

एजेंसी की योजनाओं के बारे में राधाकृष्णन ने बताया कि इसरो अगले साल की शुरुआत में रिसोर्स सैट-2 के साथ तीन और सैटेलाइट पीएसएवी से भेजे जाएंगे. "फिलहाल यह बन रहे हैं. हम प्रक्षेपण का परीक्षण जनवरी में करेंगे और उम्मीद है कि फरवरी के पहले सप्ताह में प्रक्षेपण किया जाएगा."

भारत और फ्रांस के साझा सहयोग वाले भारी कम्युनिकेशन सैटेलाइट जीसैट-8 मार्च अप्रैल 2011 में फ्रांस के गयाना से किया जाएगा. इसके अलावा भूमध्यरेखीय जलवायु के अध्ययन के लिए मेघा ट्रॉपीक सेटेलाइट भी 2011 में प्रक्षेपित किया जाएगा.

हालांकि अंतरिक्ष वैज्ञानिक फिलहाल जिओसिन्क्रोनस सैटेलाइट लॉन्च वेहिकल(जीएसएलवी) के विफल हो जाने से चिंतित हैं और इसके डाटा की जांच कर रहे हैं ताकि कारणों का पता लगाया जा सके.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः एन रंजन

DW.COM

WWW-Links