इराक का स्टाइलिश चेहरा दिखाते कुर्द ′जेंटिलमेन′ | मनोरंजन | DW | 27.02.2017
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

इराक का स्टाइलिश चेहरा दिखाते कुर्द 'जेंटिलमेन'

इराक में सरकारी सेनाओं और इस्लामिक स्टेट के बीच हो रहे युद्ध के मैदान से करीब 100 किलोमीटर दूर एक शहर में फेमिनिस्ट इराकी पुरुषों का एक क्लब इराक का फैशनेबल चेहरा दिखा रहा है. देखिए क्या है इसका मकसद.

इन्हें इराक के हिपस्टर्स कहना गलत नहीं होगा, हालांकि ये खुद को मिस्टर इरबिल कहते हैं. यह कुर्दिश पुरुषों का एक ऐसा क्लब है, जिसे इराक का पहला 'जेंटिलमेन क्लब' कहा जा रहा है. स्टाइलिश सूट बूट और करीने से रखी मूंछ, दाढ़ी और बालों का अंदाज, इन 40 के करीब क्लब मेंबरों को आम लोगों से बिल्कुल अलग दिखाता है. इंस्टाग्राम जैसे प्लेटफॉर्म पर इनके 30,000 से भी अधिक फॉलोअर्स बन चुके हैं. लेकिन यह क्लब केवल अपने कपड़ों और अदा से फैशन स्टेटमेंट ही नहीं बनाता बल्कि कुछ मुद्दों की ओर ध्यान भी दिलाना चाहता है.

जैसे कि वेस्टर्न सूटों में सजे ये पुरुष अपने इलाके की सांस्कृतिक विविधता को अपने फैशन में शामिल कर उसे वैश्विक पहचान दिलाना चाहते हैं. इसके अलावा हर गुरुवार वे देश की कामकाजी महिलाओं को भी अपनी साइट पर शोकेस कर महिला अधिकारों की वकालत करते हैं और महिला सशक्तिकरण का संदेश फैला रहे हैं. 

एक साल पहले ही शुरु हुआ 'मिस्टर इरबिल' एक राजनीतिक आंदोलन तो बन ही रहा था, अब वह ब्रांड भी बन गया है. वे इसी नाम से कपड़े बेचना भी शुरु कर रहे हैं. इस क्लब को सोशल मीडिया पर मिली प्रसिद्धि ने उसे मध्यपूर्व के देशों, यूरोप और अमेरिका तक में जाना माना नाम बना दिया है. यह सब इराक की उस छवि से बिल्कुल अलग है जो वहां आईएस के साथ चल रहे हिंसक संघर्ष के कारण दुनिया भर में दिखती है.

आरपी/एमजे

 

DW.COM

संबंधित सामग्री