1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

इतिहास में आज: 4 जुलाई

भारत के लिए आज का दिन कभी न भुलाया जा सकने वाला है. 1947 में आज ही के दिन ब्रिटिश पार्लियामेंट के सामने भारतीय स्वतंत्रता बिल का प्रस्ताव रखा गया था. जिसके तहत देश का भारत और पाकिस्तान में बंटवारा हुआ.

जुलाई की 18 तारीख को भारतीय स्वतंत्रता अधिनियम स्वीकृत हुआ और 15 अगस्त 1947 के दिन भारत दो हिस्सों में बंट गया. इस अधिनियम में भारत और पाकिस्तान के राजनीतिक प्रतिनिधियों को अपने अपने देशों के लिए संविधान तैयार करने की छूट दी गई थी.

भारतीय स्वतंत्रता अधिनियम के तहत उत्तर पश्चिमी सीमावर्ती प्रांत, पश्चिमी पंजाब के प्रांत, सिंध, बलूचिस्तान और पूर्वी बंगाल के क्षेत्रों को मिलाकर पाकिस्तान बना और बाकी संयुक्त प्रांत भारत में आए. लक्षद्वीप और अंडमान और निकोबार के द्वीप भी भारतीय अधिकार में आए.

बिल में प्रस्तावित समझौता माउंटबेटेन प्लान भी कहलाता है. माउंटबेटेन भारत के अंतिम वायसरॉय थे और स्वतंत्र भारत के गवर्नर जनरल बने. पंडित जवाहरलाल नेहरू भारत के प्रथम प्रधानमंत्री बने और मुहम्मद अली जिन्ना पाकिस्तान के पहले गवर्नर जनरल.

DW.COM

संबंधित सामग्री