1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

इतिहास में आज: 18 जुलाई

भारतीय सिनेमा में जिस कलाकार को पहली बार सुपर स्टार के नाम से पुकारा गया वह थे राजेश खन्ना. 2012 में आज ही के दिन सदाबहार रोमांटिक हीरो राजेश खन्ना ने इस दुनिया को अलविदा कहा.

साठ के दशक में फिल्म 'आखिरी खत' के साथ फिल्मों में कदम रखने वाले राजेश खन्ना ने डेढ़ सौ से ज्यादा फिल्मों में काम किया. दो रास्ते, आराधना, बावर्ची, आनंद और अमर प्रेम उनकी कुछ बेहद यादगार फिल्में रही हैं. उनके नाम सर्वाधिक सुपरहिट फिल्में लगातार देने का रिकॉर्ड है. 1969 से 1971 तक उनकी 17 फिल्में लगातार सुपरहिट रहीं, जिनमें से 15 में उन्होंने हीरो का किरदार निभाया था.

1973 में उन्होंने अभिनेत्री डिंपल कपाड़िया से शादी की. हालांकि डिंपल की पहली फिल्म 'बॉबी' उनकी शादी के 8 महीने बाद आई थी. उन दोनो की दो बेटियां ट्विंकल खन्ना और रिंकी खन्ना हैं, दोनो ने ही फिल्मों में हाथ आजमाया लेकिन खास सफलता हाथ नहीं लगी.

राजेश खन्ना ने राजनीति में भी पारी खेली. 1992 से 1996 तक वह नई दिल्ली से लोकसभा सदस्य रहे. लंबी बीमारी के बाद 18 जुलाई 2012 को मुंबई में अपने बंगले 'आशीर्वाद' में उन्होंने आंतिम सांस ली.

DW.COM