1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

इतिहास में आजः 8 जुलाई

2000 साल से भी पहले दुनिया का सबसे मशहूर शहर इसी दिन को पैदा हुआ. कला, रोमांच और प्यार के लिए जाने जाना वाला यह शहर अब भी लाखों पर्यटकों को अपनी ओर लुभाता है.

पैरिस के बारे में कहा जाता है कि शहर ईसापूर्व 250 में स्थापित हुआ. उस वक्त पारीसी नाम के एक कबीले के लोग सेन नदी पर एक द्वीप पर बस गए. उस वक्त फ्रांस में गॉल कबीलों के लोग रहते थे. ईसापूर्व 52 में रोमन सम्राट जूलियस सीजर ने इलाके पर कब्जा कर लिया और उसे लूटीशिया का नाम दिया. लैटिन में इसका मतलब है एक ऐसी बस्ती, जो पानी के बीच बनी हो.

धीरे धीरे यह बस्ती फैलने लगी और लूटीशिया का नाम पैरिस में बदल दिया गया. साल 978 में पैरिस औपचारिक तौर पर फ्रांस की राजधानी बना. जैसे जैसे शहर बढ़ा, वैसे वैसे सेन के पश्चिमी तट पर बुद्धिजीवी और पूर्वी तट पर व्यापारी बसने लगे. 15वीं शताब्दी से लेकर 17वीं शताब्दी तक फ्रेंच रेनेसां के दौरान पैरिस में कला और विज्ञान को खूब प्रोत्साहन मिला. 1860 में फ्रेंच इम्प्रेशनिस्ट कलाकारों ने कला जगत में अपनी छाप छोड़ी. क्लोद मोने और पियेर ओगुस्त रेन्वार आज भी दुनिया के सबसे अहम कलाकारों में गिने जाते हैं.

आज पैरिस में करीब 20 लाख लोग रहते हैं और आइफेल टावर इस शहर का सबसे मशहूर प्रतीक है.

DW.COM

संबंधित सामग्री