1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

इतिहास में आजः 5 सितंबर

ओलंपिक इतिहास के काले दिनों में एक है 5 सितंबर 1972. म्यूनिख ओलंपिक खेल के दौरान आज ही के दिन आतंकवादी हमला हुआ जिसने 11 खिला़ड़ियों की जान ली.

1972 में म्यूनिख ओलंपिक के दौरान फलीस्तीनी आतंकवादी गुट ब्लैक सेप्टेंबर ने 11 इस्रायली खिलाड़ियों को बंधक बना लिया. हमले के दौरान 2 खिलाड़ियों की मौत हो गई जबकि बाकी 9 की अगले दिन हत्या कर दी गई. खिलाड़ियों के साथ ही एक जर्मन पुलिस अधिकारी भी मारा गया. खिलाड़ियों को बंधक बनाने के साथ ही आतंकवादियों ने इस्रायल की जेलों में बंद 234 कैदियों को छोड़ने की मांग रखी. इसके साथ ही जर्मनी की जेलों में बंद आंद्रेयास बादर और उलरिके माइनहोफ को भी छोड़ने को कहा. इन दोनों ने जर्मन रेड आर्मी फैक्शन का गठन किया था.

हमलावरों को जर्मन नवनाजियों का समर्थन मिलने की भी बात कही जाती है. ब्लैक सेप्टेंबर में शामिल आठ में से पांच आतंकवादियों को पुलिस की कार्रवाई के दौरान मार दिया गया. बाकी बचे तीन आतंकवादी जिंदा पकड़े गए हालांकि बाद में लुफ्थांसा एयरलाइंस के एक विमान के हाईजैक होने पर उन्हें रिहा कर दिया गया. इस्राएल ने इसका जवाब ऑपरेशन स्प्रिंग ऑफ यूथ और ऑपरेशन रैथ ऑफ गॉड के जरिए दिया. इस दौरान इस्रायली खुफिया एजेंसी मोसाद और विशेष सैन्य बल ने नरसंहार के जिम्मेदार संदिग्ध फलीस्तीनियों को चुन चुन कर मारा.

DW.COM