1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

इतिहास में आजः 31 अक्टूबर

31 अक्टूबर 1984 को भारत की तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की गोली मार कर हत्या कर दी गई, इसके बाद देश की राजधानी समेत भारत के कई शहरों में सिख विरोधी दंगे भड़क गए थे.

ऑपरेशन ब्लू स्टार के बाद उपजे तनाव के बीच तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के दो सिख अंगरक्षकों ने 31 अक्टूबर 1984 को उनकी गोली मार कर हत्या कर दी. इंदिरा गांधी की हत्या के बाद हिंसा भड़क गई थी. इंदिरा गांधी की हत्या के बाद सिखों को निशाना बनाया गया. हिंसक झड़पों में कई बेगुनाह सिख मारे गए और उनके घरों और उनकी दुकानों को आग के हवाले कर दिया गया.

दंगे भड़कने के बाद दिल्ली में चार से ज्यादा लोगों के जमा होने पर प्रतिबंध लगा दिया गया और सेना को हाई अलर्ट पर रखा गया. इंदिरा गांधी 16 साल देश की प्रधानमत्री रहीं और उनके शासनकाल में कई उतार-चढ़ाव आए, लेकिन साल 1975 में आपातकाल लागू करने के फैसले को लेकर इंदिरा को भारी विरोध-प्रदर्शन और तीखी आलोचनाएं झेलनी पड़ी थीं.

इंदिरा गांधी की हत्या के बाद उनके बेटे राजीव गांधी भारत के छठे प्रधानमंत्री बने. 19 नवंबर 1917 को पैदा हुईं इंदिरा गांधी ने भारत को अंतरराष्ट्रीय मंच पर नई पहचान दिलाई. मजबूत संकल्प वाली और किसी भी तरह की परिस्थिति से जूझने और जीतने की क्षमता रखने वाली इंदिरा गांधी ने न केवल इतिहास में खास जगह बनाई, बल्कि पाकिस्तान को विभाजित करवाकर दक्षिण एशिया का भूगोल ही बदल डाला.

रिपोर्ट: आमिर अंसारी

संपादन: ओंकार सिंह जनोटी

DW.COM

संबंधित सामग्री