1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

इंधन सेंसर के खिलाफ रेड बुल

फॉर्मूला वन चैंपियनशिप में रेड बुल टीम के प्रिंसिपल क्रिस्टियान हॉर्नर ने तेल का बहाव मापने वाले सेंसरों को हटाने की मांग की है जबकि इंटरनेशनल ऑटोमोबिल संघ ने इस मांग को सुरक्षा का हवाला देकर ठुकरा दिया है.

क्रिस्टियान हॉर्नर की यह मांग शुक्रवार को मलेशिया ग्रां प्री में प्रैक्टिस सेशन के दौरान नए सिस्टम की मुश्किलों के बाद आई है. दो हफ्ते पहले रेड बुल के डैनियल रिकियार्डो मेलबॉर्न ग्रां प्री में दूसरे नंबर पर आए थे लेकिन बाद में उन्हें प्रति घंटे 100 किलोग्राम की सीमा से ज्यादा इंधन के बहाव के कारण डिस्क्वालिफाई कर दिया गया. टीम ने सेंसर की सटीकता पर सवाल उठाए हैं और अपील की है. अपील की सुनवाई 14 अप्रील को पेरिस में होगी.

शुक्रवार को रिकियार्डो का सेंसर फेल हो जाने के बाद हॉर्नर ने कहा है कि वे रविवार को सेपांग में होने वाली रेस से पहले अंतरराष्ट्रीय ऑटोमोबिल संघ के तकनीकी प्रतिनिधि चार्ली व्हिटिंग से बात करेंगे. प्रैक्टिस के दौरान रिकियार्डो की गाड़ी का सेंसर फेल हो गया और उसे बदलना पड़ा. हॉर्नर ने कहा कि उन्हें दूसरे ड्राइवरों के बारे में पता है जिन्हें सेंसर सिस्टम के साथ मुश्किलों का सामना करना पड़ा है. उन्होंने कहा कि इंधन के बहाव को मापने के लिए बेहतर तरीके की जरूरत है.

अंतरराष्ट्रीय ऑटोमोबिल संघ ने इंधन का बहाव मापने वाले सिस्टम पर उलझन को दूर करने के लिए उसके काम के तरीके के बारे में बताने के लिए एक गोष्ठी की. लेकिन साथ ही संगठन ने संकेत दिए हैं कि उसका इसमें बदलाव करने का कोई इरादा नहीं है. एफआईए के फ्रैब्रिस लोम ने कहा कि सुरक्षा चिंताएं हैं, "यदि इंधन के बहाव की सीमा नहीं होती है तो कारों के बीच स्पीड का भारी और खतरनाक अंतर होगा, जिसमें वह ड्राइविंग स्टाइल दिखेगा जो फॉर्मूला वन का नहीं है."

रेड बुल के लिए इंधन के बहाव की समस्या एकमात्र समस्या नहीं थी. विश्व चैंपियन फेटल को शनिवार के क्वालिफाइंग और रविवार की रेस के लिए नए इलेक्ट्रॉनिक पावर कंट्रोल की जरूरत पड़ी. यह तीसरा मौका है जब जर्मनी के चैंपियन को पावर सप्लाई यूनिट का हिस्सा बदलने की जरूरत पड़ी है जबकि 19 रेसों वाले सीजन के दौरान सिर्फ पांच बार बदलाव की अनुमति है. उसके बाद पेनल्टी लगना शुरू हो जाता है.

एमजे/आईबी (रॉयटर्स)