1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

इंटेल विज्ञान पुरस्कार में 2 भारतीय छात्र

प्रतिष्ठित इंटेल साइंस टैलेंट सर्च पुरस्कार हासिल करने वाले दस छात्रों में दो भारतीय-अमेरिकी छात्र भी अपना नाम शुमार कराने में सफल रहे हैं. पुरस्कार विजेताओं को बीस हजार डॉलर इनाम के रूप में दिए गए.

इंटेल साइंस टैलेंट सर्च पुरस्कार में जॉर्जिया के आनंद श्रीनिवासन आठवें और मैरिलैंड के शौन दत्ता दसवें स्थान पर रहे. सैन डिएगो के 17 वर्षीय एरिक एस चेन ने पहला पुरस्कार हासिल किया. चेन को इन्फ्लुएंजा के इलाज के लिए संभावित नई दवा पर शोध के लिए इंटेल फाउंडेशन की तरफ से एक लाख डॉलर इनाम के रूप में दिया गया. इस दवा को तैयार करने के लिए उन्होंने संरचना पर शोध के अलावा कंप्यूटर मॉडलिंग का भी इस्तेमाल किया.

एरिक अपने स्कूल की तलवारबाजी टीम के अहम खिलाड़ी हैं और जूनियर ओलंपिक क्वालीफायर भी. उन्हें उम्मीद है कि उनका काम नई तरह की दवाई बनाने में मदद करेगा जिससे महामारी के दौरान फ्लू को फैलने से रोका जा सकेगा. कैलिफोर्निया के 17 वर्षीय केविन ली दूसरे स्थान पर रहे. उन्हें 75 हजार डॉलर मिले हैं. ली ने ऐसे गणितीय मॉडल का विकास किया है जो हृदय की धड़कन के आधार पर उसका आकार बताता है. इस प्रक्रिया में द्रव्य यांत्रिकी के सिद्धांत का इस्तेमाल होता है.

भावी वैज्ञानिकों का सम्मान

केविन का तेज और कुशल मॉडल हृदय की अनियमित धड़कन की बीमारी पर ज्यादा रोशनी डालने और बेहतर इलाज खोजने में मदद करेगा. इंटेल साइंस टैलेंट सर्च अवॉर्ड पाने वाले शीर्ष दस लोगों में तीसरा स्थान पाया है, मैसेचुसेट्स के विलियम हेनरी ने. उन्हें बतौर इनाम पचास हजार डॉलर दिए गए हैं. श्रीनिवासन को बीस हजार डॉलर का इनाम न्यूरल नेटवर्क पर आधारित कंप्यूटर मॉडल, आरएनएन स्कैन बनाने के लिए दिए गए. इससे डीएनए के खास पैटर्न के बारे में जानकारी हासिल की जा सकती है. वहीं दत्ता को बीस हजार डॉलर का पुरस्कार मिला. उन्होंने परमाणु पदार्थों के बीच होने वाली प्रतिक्रिया में सुधार के लिए कंप्यूटर मॉ़डलों और समीकरणों का उपयोग किया.

इंटेल फाउंडेशन की कार्यकारी निदेशक वेंडी हॉकिन्स ने कहा, "इंटेल में हम इन प्रतिभाशाली युवा वैज्ञानिकों के काम की प्रशंसा करते हैं, जो अगली पीढ़ी को अधिक से अधिक उत्साह और ऊर्जा के साथ आविष्कार और खोज के जीवन में प्रेरित करेंगे."

एए/एएम (पीटीआई)

DW.COM

संबंधित सामग्री