1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

इंग्लैंड का एम्बैसडर बना ऑक्टोपस पॉल

दक्षिण अफ्रीका में हुए फुटबॉल वर्ल्ड कप में टीमों की जीत हार की सटीक भविष्यवाणी करने वाला पॉल ऑक्टोपस एक बार फिर खबरों में है. 2018 के फीफा वर्ल्ड कप की मेजबानी की दावेदारी के लिए इंग्लैंड ने एम्बैसडर बनाया है

default

पॉल का जन्म इंग्लैंड में हुआ था लेकिन पिछले दो साल से वह जर्मनी के एक मछलीघर में है. इंग्लैंड ने उसे एम्बैसडर बनाया है कि अगले फीफा वर्ल्ड कप की मेजबानी इंग्लैंड को दी जाए. डेविड बेकहम, रिओ फर्डिनेंड, फॉर्मुला वन चालक लुइस हैमिल्टन सहित दो गायक भी इस दावेदारी का समर्थन कर रहे हैं.

दक्षिणी इंग्लैंड के वेमथ सी लाइफ सेंटर के मैनैजर निकोला हैमिल्टन का कहना है, "पॉल ने पिछले दो साल जर्मनी में बिताए हैं लेकिन वो निश्चित ही गर्वीला इंग्लिशमैन है. इसलिए वो निश्चित ही 2018 के लिए इंग्लैंड की दावेदारी का समर्थन करेगा."

Der indische Sandskulpturenspezialist Sudarsan Pattnaik

भारत के समुद्री तट पर सुदर्शन पटनायक ने बनाया रेत से पॉल

दक्षिणी इंग्लैंड में ही पॉल पैदा हुआ था. निकोला का कहना था कि मैचों की भविष्यवाणी से पॉल अधिकारिक तौर पर रिटायर हो चुका हैं. फुटबॉल वर्ल्ड कप 2010 के मैचों की सही भविष्यवाणी करने के कारण पॉल दुनिया भर में मशहूर हो गया था और समाचारों में बना रहा.

जर्मनी के सात मैचों की उसने सही भविष्यवाणी की थी और ये भी कहा था कि स्पेन फाइनल जीतेगा. इसके लिए वह दो टीमों के झंडे वाले डब्बों में से एक का चुनाव करता था.

हैमिल्टन ने कहा कि भविष्यवाणी करने के दिन अब खत्म हो चुके हैं अब पॉल कई और प्रोजेक्ट पर ध्यान लगा रहा है. इंग्लैंड 2018 के लिए निश्चित ही उसमें दिलचस्पी होगी. पॉल ने एक बुक डील साइन की है. वह फिल्म में आएगा और 2018 वर्ल्ड कप के लिए इंग्लैंड की मेजबानी की दावेदारी के प्रचार में भी वह हिस्सा लेगा.

फीफा सोमवार को इंग्लैंड की दावेदारी का आकलन करने के लिए वहां पहुंच रहा है. 2018 के फुटबॉल वर्ल्ड कप की मेजबानी के लिए इंग्लैंड के अलावा रूस, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया के साथ ही स्पेन और पुर्तगाल, हॉलैंड और बेल्जियम संयुक्त दावेदारी पेश करने वाले हैं. 2018 और 2022 में फुटबॉल वर्ल्ड कप की दावेदारी पर फैसला 2 दिसंबर को सुनाया जाएगा.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links