1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

आ सकता है मलेरिया का नया टीका

मलेरिया से लड़ने के सवा सौ साल के संघर्ष में एक नए मोड़ की घोषणा आज से वॉशिंगटन में शुरू हो रहे सम्मेलन में हो सकती है. हर साल 9 लाख लोग मलेरिया से मरते हैं.

default

पूरी दुनिया के वैज्ञानिक और डॉक्टर वॉशिंगटन में मलेरिया के खिलाफ टीके के विकास में हुई प्रगति पर चर्चा के लिए मिल रहे हैं और वहां से अच्छी खबर आने की उम्मीद की जा रही है. ग्लोबल हेल्थ स्ट्रैटेजिज की उपाध्यक्ष ग्वाइन ऊस्टरबान का कहना है, "लोग उत्तेजित हैं कि हमें अंततः एक टीका मिलेगा जिसे रजिस्टर कराया जा सके और पांच साल में उपयोग में लाया जा सके."

Bill und Melinda Gates in Mosambik

मेलिंडा और बिल गेट्स सक्रिय हैं मलेरिया उन्मूलन के लिए

वॉशिंगटन बैठक के केंद्र में आरटीएस,एस मलेरिया टीका होगा जिसका विकास ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन और मलेरिया टीका पहलकदमी पाथ ने आईटी से पैसा कमाने वाले बिल गेट्स और उनकी पत्नी मेलिंडा के फाउंडेशन के वित्तीय समर्थन से किया है.

आरटीएस,एस तीसरे चरण के ट्रायल में है, जिसके दौरान अफ्रीका के सात देशों बुरकीना फासो, गैबून, घाना, केन्या, मलावी, मोजांबिक और तंजानिया में टीके की सुरक्षा और गुणवत्ता की जांच की जा रही है. इन देशों मे 16,000 बच्चों और शिशुओं को टीका लगाने का लक्ष्य है.

दूसरे चरण के ट्रायल के नतीजों की घोषणा 2008 में की गई थी और कहा गया कि आरटीएस,एस टीका मच्छर के काटने की वजह से मलेरिया का शिकार होने वाले बच्चों में 53 फीसदी प्रभावी था. शिशुओं के मामले में यह 65 फीसदी प्रभावी पाया गया.

Malariabekämpfung in Sambia

जांबिया में मलेरिया के खिलाफ अभियान

मलेरिया टीका पहलकदमी का कहना है कि यदि तीसरे चरण का ट्रायल और रजिस्ट्रेशन सफल रहता है तो यह टीका गंभीर बीमारी और मौत के खिलाफ कम से कम 50 फीसदी प्रभाव वाला पहली पीढ़ी का टीका बन जाएगा. ऊस्टरबान का कहना है कि इस टीके के विकास में 25 साल लगे हैं और हर क्षेत्र से जुड़े लोगों ने इसमें योगदान दिया है.

लंदन में तीन साल पहले मलेरिया के टीके पर हुए सम्मेलन के बाद हो रहे वॉशिंगटन सम्मेलन के वक्ताओं में आरटीएस,एस का विकास करने वालों में शामिल जो कोहेन के अलावा क्रिश्टियान ओकेनहाउस और थॉमस रिची भी होंगे जो मलेरिया के खिलाफ संघर्ष में अमेरिकी सेना की भूमिका पर चर्चा करेंगे.

रिपोर्ट: एएफपी/महेश झा

संपादन: ए कुमार

DW.COM

WWW-Links