1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

आस्ट्रेलिया में क्रिकेट की मौतः अखबार

एशेज के दूसरे टेस्ट में महज 98 रन पर आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के आउट होने को स्थानीय अखबारों ने 'क्रिकेट की मौत' करार दिया है. रविवार को पिछले 100 सालों में क्रिकेट इतिहास का सबसे बुरा दिन कहा गया.

default

इंग्लैंड के गेंदबाजों ने पूरी ऑस्ट्रेलियाई टीम को 98 रनों पर समेटा और पहले दिन का खेल खत्म होने तक मेहमान टीम ने बिना कोई विकेट गंवाए 157 रन भी बना लिए. आस्ट्रेलियाई मीडिया ने पोन्टिंग सेना की जम कर खिंचाई की है.

द सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड ने टीम के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए पहले पेज पर ही 'अपमान' की रिपोर्ट छापी है और स्पोर्ट्स पेज पर एशेज सीरीज में आस्ट्रेलियाई क्रिकेट की मौत पर शोक संदेश दिया है. अखबार लिखता है,"ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट की स्नेहभरी याद में जिसकी 26 दिसंबर को एमसीजी में मौत हो गई,मित्रों और सहयोगियों ने गहरा दुख जताया है."

क्रिकेट के मौत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी छापी गई है. क्रिकेट लेखक पीटर रॉयबक ने लिखा है,"रिकी पॉन्टिंग के खिलाड़ी कसाई खाने में भेड़ साबित हुए. टेस्ट मैच में जीत और एशेज में वापसी की उम्मीद की उम्र महज तीन घंटे ही रही. इन्हीं तीन घंटों में सब कुछ सामने आ गया." ऑस्ट्रेलियाई अखबार की निराशाजनक टिप्पणियां यहीं पर खत्म नहीं हुईं उसने आगे लिखा है,"दसियों हजार लोग यहां टेस्ट क्रिकेट का मजा लेने आए थे लेकिन जल्दी ही उन्हें महसूस हो गया कि वो शवयात्रा में आए हैं."

36 साल के पॉन्टिंग पिछले सात पारियों में से छह में नाकाम रहे हैं और अखबारों ने उनका करियर खत्म होने की भविष्यवाणी कर दी है. खेल पत्रकार रॉन रीड ने मेलबर्न हेराल्ड सन में लिखा है,"ऑस्ट्रेलिया के सबसे सम्मानित क्रिकेटरों में से एक पॉन्टिंग का ऐसा प्रदर्शन बेहद दुखद रहा है वो अपना पूरा अनुभव और संकल्प के बावजूद अपनी बैटिंग के बुरे दौर से बाहर नहीं निकल सके. दूसरी पारी में पॉन्टिंग को बल्लेबाजी करते देख रहे लोगों की भावनाएं उफान पर होंगी, इस मैच, एशेज, कप्तानी और उनका करियर अब एक बहुत पतले धागे से जुड़े हैं."

ज्यादातर अखबारों ने आस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों की नाकामी को प्रमुखता से जगह दी है पर कुछ ने मेहमान टीम के खिलाड़ियों के बेहतर खेल की तारीफ भी की है. खासतौर से तेजत गेंदबाज जेम्स एंडरसन, क्रिस ट्रेमलेट और टिम ब्रेंस्नन को अच्छी तारीफ मिली है.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः आभा एम

DW.COM

WWW-Links