1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

आलम की गिरफ्तारी से राहत मिलेगीः उमर अब्दुल्लाह

जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्लाह ने कहा है कि हु्र्रियत कॉन्फ्रेंस के कट्टरपंथी गुट के नेता मसरत आलम की गिरफ्तारी से घाटी के लोगों को राहत मिलेगी लेकिन इससे कश्मीर मुद्दे पर फर्क नहीं पड़ेगा.

default

मुद्दे पर असर नहीं-ओमर अब्दुल्लाह

मुख्यमंत्री के मुताबिक लोग आलम के आए दिन विरोध प्रदर्शनों और हड़ताल के आह्वान से परेशान थे. उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि हमारे(सरकार) के लिए नहीं, बल्कि लोगों के लिए राहत है क्योंकि लोग बहुत परेशान थे."

Kaschmir Kashmir Indien Polizei Protest Demonstration Muslime Steine

जून में शुरू हुए प्रदर्शन

उन्होंने हालांकि साफ कर दिया कि कश्मीर मुद्दे पर गिरफ्तारी का कोई असर नहीं होगा, "अगर कोई गिरफ्तार या रिहा होता है तो इससे कश्मीर मुद्दे पर कोई असर नहीं पड़ेगा, चाहे कोई कैलंडर रिलीज़ करे या नहीं." आलम की गिरफ्तारी के बारे में पूछने पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले चार महीनों से पुलिस उसे ढूंढने में लगी हुई थी उसकी गिरफ्तारी को लेकर जानकारी गुप्त है और उसे गुप्त ही रखा जाना चाहिए.

11 जून को कश्मीर में विरोध प्रदर्शनों के कुछ ही दिन बाद आलम गायब हो गया था. उसने लगातार विरोध प्रदर्शनों के आयोजन के दिन बताने वाले कैलंडर निकाले और लोगों को वीडियो संदेश भेजे. आलम को सोमवार को गिरफ्तार किया गया और उस पर सार्वजनिक सुरक्षा एक्ट या पीएसए के तहत मामला दर्ज किया गया है.

रिपोर्टःपीटीआई/एमजी

संपादनः एन रंजन

DW.COM