1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

आर्मस्ट्रांग का ओलंपिक मेडल वापस

अमेरिका की राष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने पुष्टि की है कि उसे डोपिंग के कारण प्रतिबंधित साइकिल चालक लांस आर्मस्ट्रांग का ओलंपिक मेडल मिल गया है. आर्मस्ट्रांग ने इसकी जानकारी पहले ही दे दी थी.

अमेरिकी ओलंपिक समिति के प्रवक्ता पैट्रिक संडस्की ने सिडनी ओलंपिक में आर्मस्ट्रांग के कांस्य पदक की वापसी की पुष्टि करते हुए कहा, "सिडनी में जीता गया पदक अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति को भेजा जा रहा है."

इसके पहले लांस आर्मस्ट्रांग ने ट्विटर पर पदक वापस किए जाने की जानकारी दी और उसके साथ एक तस्वीर भी लगाई थी. साल के शुरू में लंबे समय तक डोपिंग करने की बात स्वीकार करने वाले आर्मस्ट्रांग ने ट्वीट किया, "2000 का कांसा यूएस ओलंपिक समिति के पास वापस चला गया है, और जल्द ही लुसान में ओलंपिक समिति के पास चला जाएगा."

सालों तक झूठ बोलने के बाद जब आर्मस्ट्रांग ने शक्तिवर्द्धक दवाएं लेने की बात मानी तो अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने आर्मस्ट्रांग का पदक रद्द कर दिया था. साथ ही समिति ने आर्मस्ट्रांग से जनवरी में ही सिडनी में जीते गए पदक को वापस कर देने को कहा. डोपिंग कबूलने के बाद हर कहीं से पदक और पैसा लौटाने की मांगों का सामना कर रहे स्टार ने पदक लौटाने में आठ महीने लगाए.

Lance Armstrong Tour de France Radsport

पदक लौटाने की मांग

आर्मस्ट्रांग पर डोपिंग के आरोप तो साल से लगाए जा रहे हैं, लेकिन वे नतीजे से बचते रहे. पिछले साल एक विस्तृत रिपोर्ट में अमेरिकी एंटी डोपिंग एजेंसी ने आर्मस्ट्रांग की गलतियों का दस्तावेज तैयार किया था, जिसके बाद उनसे 1999 से 2005 के बीच टूर डे फ्रांस में जीते गए पदक वापस ले लिए गए और जीवन भर के लिए प्रतिबंध लगा दिया गया.

सिडनी में अमेरिका के स्टार पेशेवर साइकिल चालक को टाइम ट्रायल में रूस के व्याचेस्लाव यकीमोव और जर्मनी के यान उलरिष के बाद तीसरे स्थान से संतोष करना पड़ा था. आर्मस्ट्रांग से पदक छीनने के बाद अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति ने कहा था कि चौथे स्थान पर आए स्पेन के अब्राहम ओलानो को तीसरा स्थान नहीं मिलेगा.

खेलों और खास तौर पर साइक्लिंग में डोपिंग के आरोप नए नहीं है, लेकिन मशहूर अमेरिकी साइक्लिस्ट लांस आर्मस्ट्रांग के फंसने के बाद अब हर तरह के मामलों की जांच की जा रही है और डोपिंग पर कड़ा रुख अपनाया जा रहा है. खेल संगठनों पर जानबूझकर डोपिंग के प्रति उदासीन रहने के आरोप लगाए जा रहे हैं. जर्मनी में डोपिंग को रोकने के लिए कानून बनाने पर बहस हो रही है.

एमजे/एएम (डीपीए)

DW.COM

संबंधित सामग्री