1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

आप से वसूले जायेंगे 97 करोड़ रुपये

दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल ने मुख्य सचिव को आदेश दिये हैं कि वह सत्ताधारी आम आदमी पार्टी से विज्ञापन में खर्च किये गये 97 करोड़ वसूले. उपराज्यपाल ने कहा कि विज्ञापन सु्प्रीम कोर्ट के दिशानिर्देशों का उल्लघंन हैं.

आम आदमी पार्टी (आप) से अब 97 करोड़ रुपये वसूले जायेंगे. उपराज्यपाल ने मुख्य सचिव को यह राशि 30 दिन के भीतर वसूलने के आदेश दिये हैं. दिल्ली में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के चेहरे वाले विज्ञापन लगाये गये थे जिसे सुप्रीम कोर्ट के दिशा निर्देशों के खिलाफ बताया गया है. हालांकि इसके पहले सीएजी भी केजरीवाल सरकार के विज्ञापन खर्च पर सवाल उठा चुका है. पिछले साल सीएजी ने कहा था कि विज्ञापन पर खर्च करने की बजाय सरकार के कामकाज पर अधिक खर्च किया जाना चाहिये. उपराज्यपाल ने कहा है कि जो पैसा सरकार के बजट से पार्टी के विज्ञापन पर खर्च हुआ है उसकी भरपाई पार्टी को करनी होगी. केजरीवाल सरकार के विज्ञापन खर्च का मामला कोर्ट में था जिस पर सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर केंद्र सरकार ने एक तीन सदस्यीय कमेटी बनाई थी.

समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि केजरीवाल सरकार ने जैसे संदेश विज्ञापनों में देने की कोशिश की है वे वह सुप्रीम कोर्ट के दिशा निर्देशों के खिलाफ है. इसलिए सरकारी खजाने से खर्च पैसे को आम आदमी पार्टी से वसूला जाना चाहिये. समिति के इस सुझाव पर उपराज्यपाल ने अमल के आदेश दिये जिसके बारे में अब मुख्य सचिव को वसूली के लिये कहा गया है.

दिल्ली नगर निगम के चुनावों में एक महीने से भी कम समय बाकी है, ऐसे में यह मुद्दा और तूल पकड़ सकता है. हालांकि आम आदमी पार्टी ने इस पूरे मामले में अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है लेकिन जाहिर तौर वह इस मसले पर कानूनी विकल्प खंगाल सकती है.

DW.COM