1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

आतंकी साजिशः गुरुकांत देसाई ब्रिटेन में गिरफ्तार

इंग्लैंड में आतंकवादी साजिश रचने के शक में गिरफ्तार किए गए नौ युवकों में एक भारतीय भी है. एक हफ्ता पहले गिरफ्तार किए गए ये युवक दक्षिण एशियाई मूल के हैं. इनमें से ज्यादातर पाकिस्तान या बांग्लादेशी मूल के हैं.

default

सभी नौ युवकों की सोमवार को अदालत में पेशी हुई जिसके बाद उन्हें हिरासत में भेज दिया गया. पुलिस के मुताबिक सभी युवक 19 से 28 साल की उम्र के हैं. पुलिस ने आरोप लगाया है कि वे अक्तूबर से दिसंबर के बीच इंग्लैंड में आतंकवादी हमलों की साजिश कर रहे थे.

गिरफ्तार युवकों में से एक गुरुकांत देसाई है जिसे कार्डिफ से पकड़ा गया. 28 साल का देसाई भारतीय मूल का है. उसके साथ कार्डिफ से दो और युवक उमर शरीफ लतीफ (26) और अब्दुल मलिक मिया (24) भी गिरफ्तार किए गए हैं.

पुलिस ने 20 दिसंबर को इंग्लैंड और वेल्स में कई ठिकानों पर छापे मारकर इन युवकों को गिरफ्तार किया. कुल 12 युवकों को गिरफ्तार किया गया था लेकिन बाद में तीन को बिना कोई आरोप लगाए रिहा कर दिया गया. बाकी नौ युवकों पर टेररिजम एक्ट 2006 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है. आरोपियों की अगली पेशी 14 जनवरी को होगी.

क्राउन प्रोसीक्यूशन सर्विस काउंटर के आतंकवाद विभाग की प्रमुख स्यू हेमिंग ने कहा, "मैंने पुलिस को सलाह दी है कि नौ युवकों पर धमाकों की साजिश रचने और आतंकवादी कार्रवाई की तैयारियों में शामिल होने के आरोप लगाए जाएं." उन्होंने बताया कि उनके विभाग के वकील इस मामले की शुरुआत से ही पुलिस के साथ काम कर रहे हैं.

हाल ही में यूरोप में कई जगह छोटे आतंकवादी हमले हुए हैं. स्टॉकहोम में भी आत्मघाती हमला हुआ था. इस हमले में बम पहले ही फट गया और हमलावर की मौत हो गई. वह हमलावर लंदन के पास लूटन कस्बे में रहता था.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ए कुमार

DW.COM

WWW-Links