1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मंथन

आतंकी संगठनों की पहचान

भारत हो, जर्मनी या अमेरिका, हर जगह आतंकी बम धमाकों की संख्या बढ़ रही है. मंथन में इस बार जानिए कि इन्हें रोकने के लिए कैसे कदम उठाए जा रहे हैं.

पुलिस और सुरक्षा एजेंसियों के लिए सबसे बड़ी चिंता यह होती है कि धमाकों में इस्तेमाल होने वाले विस्फोटकों को कैसे पहचानें. बम बनाने का अलग अलग तरीका आतंकी संगठनों की पहचान बता सकता है. अगर यह पता हो कि कैसे खतरे मौजूद हैं, तभी उनकी साजिश को टाला जा सकता है, वक्त रहते बम को डिफ्यूज किया जा सकता है. आधुनिक विज्ञान की मदद से यह कैसे किया जा रहा है जानिए मंथन के इस अंक में.

मछलियों के फार्मिंग

यूनिसेफ के आंकड़े बताते हैं कि दुनिया भर में हर रोज 22 हजार बच्चे गरीबी के कारण अपनी जान गंवा रहे हैं. भारत की भी करीब एक तिहाई आबादी गरीबी में रहती है. इस से निपटने के लिए वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम ने कई ऐसे संगठन शुरू किए हैं जो सीधे लोगों की मदद में लगे हैं. इन्हीं में से एक है ग्लोबल शेपर्स. साझा विचार, काम और फैसला ग्लोबल शेपर्स के तहत काम करने वाले युवाओं का लक्ष्य है. मंथन में इस बार जानिए कि इक्वाडोर की राजधानी कीतो में ये लोग कैसे गरीबी खत्म करने की कोशिश में लगे हैं.

इक्वाडोर के इस बार मंथन में रुख होगा कनाडा का, जहां मछलियों के फार्म में नए तरीकों का इस्तेमाल हो रहा है. यहां तक कि मछलियों को टीका भी लगाया जा रहा है. लेकिन इस सब के बावजूद पर्यावरण को नुकसान पहुंच रहा है. जीवविज्ञानी अलेक्सैंड्रा मॉर्टन तीस साल से कनाडा के पश्चिमी तट पर रह रही हैं. इस इलाके में बहुत सारे समुद्री जीव हैं और वह उन्हें बचाने में लगी हैं.

जमीन पर ऑटोग्राफ

घर में एक महंगा सा म्यूजिक सिस्टम, साथ में बढ़िया स्पीकर, वूफर और सराउंड साउंड हो तो म्यूजिक सुनने का मजा बढ़ जाता है. एक ही गाने को रेडियो पर और फिर अच्छे हेडफोन्स पर सुनें तो फर्क साफ पता चलता है. मंथन में हम लेकर आ रहे हैं बढ़िया म्यूजिक के शौकीनों के लिए कमरे के साइज के स्पीकर्स. भोंपू जैसे दिखने वाले इन खास स्पीकर्स के लिए आपको एक लाख यूरो तक देने पड़ सकते हैं.

और इसके बाद मुलाकात होगी जमीन पर ऑटोग्राफ देने वाले एक कलाकार से. इटली की एक वर्ल्ड हेरिटेज साइट पर ढाई हजार आइने लगाकर लुसियुस सीयरमन ने अपनी निशानी दी. पहचान दिखाने के लिए इस जर्मन कलाकार को चाहिए कार का साइड व्यू मिरर और सूरज की रोशनी. तब ही ये पहचान चमकती है.

इन सभी रोमांचक रिपोर्टों के लिए देखना ना भूलें मंथन शनिवार सुबह 10.30 बजे डीडी नेश्नल पर.

DW.COM