1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

आठ मिनट में 4 गोल से पलटी बाजी

जर्मन हॉकी टीम यूरोपीय चैंपियनशिप में बेल्जियम के खिलाफ शुरुआती मैच हारने के बाद दबाव में थी. सेमी फाइनल में पहुंचने के लिए एक जीत की जरूरत थी और वह दूसरे हाफ में मिली, 8 मिनट में 4 गोल ने बाजी पलट दी.

पुरुषों की जर्मन टीम के लिए करो या मरो वाली हालत थी. 14वें यूरोपीय चैंपियनशिप के सेमी फाइनल में पहुंचने के लिए उसने जी जान लगा दी. मेजबान बेल्जियम से दो दिन पहले हारने के बाद जर्मन टीम को जीत की सख्त जरूरत थी. प्रतिस्पर्धा में बने रहने के लिए ट्रेनर मार्कुस वाइजे की टीम को सोमवार को हर हाल में स्पेन को हराना था और दो-दो बार पिछड़ने के बावजूद उसे इसमें सफलता मिली. हाफ टाइम में 1-2 से पिछड़ने के बावजूद जर्मनी ने स्पेन को आखिरकार 6-3 से हरा दिया.

हाफ टाइम के बाद मजबूत खेल दिखाने वाले टाइटल होल्डर के लि थीलो श्ट्रालकोवजी ने दो गोल किए जबकि मोरित्स फुर्स्टे, क्रिस्टोफर वेसली, मार्टिन स्विकर और ओलिवर कॉर्न ने एक एक गोल किए. बुधवार को जर्मनी का मुकाबला चेक गणतंत्र से है, जिसके खिलाफ उसके जीतने के अच्छे अवसर हैं और साथ ही अंतिम मौके पर टूर्नामेंट के सेमी फाइनल में पहुंचने के भी.

स्पेन के खिलाफ मैच जीतने के बाद जर्मन टीम के कप्तान मोरित्स फुर्स्टे ने संतोष जताते हुए कहा , "हाफ टाइम के दौरान खेल का विश्लेषण करने के बाद मैंने चिंगारी महसूस की. तब अभी या कभी नहीं की भावना आई." अपने खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए जाने जाने वाले ट्रेनर वाइजे ने विराम के दौरान केबिन में खिलाड़ियों से कुछ भी न कहने का फैसला लिया. खेल के दौरान वे पोडियम पर आराम से बैठे रहे और कुछ नहीं कहा.

बाद में फुर्स्टे ने कहा, "उन्होंने हमारी गल्तियों की ओर ध्यान दिलाया." 44वें मिनट में दूसरा गोल कर मैच को बराबर करने और नया मोड़ देने वाले कप्तान ने कहा कि हाफ टाइम के बाद हमने बहुत मेहनत की और उसके बाद बहुत कुछ ठीकठाक हुआ.

स्पेन के खिलाफ गर्म मौसम में हो रहे खेल के दौरान जर्मन टीम बेल्जियम के हाथों पहले मैच में 1-2 की हार के बाद असुरक्षित दिख रही है. स्पेन के पाउ कुमादा ने 16वें मिनट में ही पहला कॉर्नर गोल कर जर्मनी को और दबाव में डाल दिया. हालांकि श्ट्रालकोव्स्की ने 18वें मिनट में ही गोल बराबर कर दिया, लेकिन 28वें मिनट में जर्मन गोलकीपर निकोलस याकोबी के अपने गोल से स्पेन बढ़त में चला गया. फुर्स्टे ने कहा, "कुछ खिलाड़ियों के चेहरे पर असुरक्षा दिख रही थी. हम आम तौर पर ऐसी स्थिति में नहीं पड़े थे और यूरोपीय चैंपियनशिप में तो इतने पहले कभी नहीं."

हाफ टाइम के बाद जर्मन टीम ने अपना पुराना आजमाया पावर प्ले दिखाया और फुर्स्टे के बराबरी गोल के बाद श्ट्रालकोव्स्की ने 48वें, वेसली ने 53वें, स्विकर ने 54वें और कॉर्न मे 63वें मिनट में गोल दागे.

एमजे/एनआर (डीपीए)

DW.COM

संबंधित सामग्री