1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

आईसीसी अवार्ड बैंगलोर में

लंबे वक्त बाद आईसीसी क्रिकेट अवार्ड इस साल भारत में दिए जाएंगे. इसके लिए दक्षिणी शहर बैंगलोर को चुना गया है. क्रिकेट का यह प्रतिष्ठित आयोजन छह अक्तूबर को होगा. इस साल से क्रिकेट का एक नया पुरस्कार भी दिया जाएगा.

default

सातवां एलजी आईसीसी अवार्ड फेडरेशन ऑफ इंटरनेशनल क्रिकेट एसोसिएशन के साथ मिल कर आयोजित किया जाएगा. यह सिर्फ दूसरा मौका है, जब आयोजन भारत में हो रहा है. इससे पहले 2006 में मुंबई में क्रिकेट के सबसे बड़े अवार्ड दिए गए थे.

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल आईसीसी ने इस साल से एक नया अवार्ड देने का एलान किया है. इसके तहत दुनिया भर के क्रिकेट प्रेमी पांच क्रिकेट सितारों में से अपनी पसंद के क्रिकेटर को चुनेंगे. इसे पीपल्स च्वाइस अवार्ड कहा जाएगा.

आईसीसी ने एक बयान जारी कर कहा कि आईसीसी का एक पैनल इन पांच खिलाड़ियों को उनके प्रदर्शन और दूसरे पैमानों के आधार पर चुनेगा. इनके नाम www.icc-cricket.com पर 23 अगस्त को डाल दिए जाएंगे. क्रिकेट प्रेमी वहां जाकर इन पांचों में से अपनी पसंद के क्रिकेटर के लिए वोटिंग कर सकते हैं. वोटिंग के लिए 10 सितंबर तक का टाइम दिया जाएगा.

इसके अलावा सात प्रतिष्ठित पुरस्कार भी दिए जाएंगे. इनमें साल का क्रिकेटर, साल का टेस्ट क्रिकेटर, साल का वनडे क्रिकेटर, उभरता हुआ क्रिकेटर और दूसरे अवार्ड शामिल हैं. इन पुरस्कारों के लिए नामांकन के लिए पांच सदस्यीय समिति की अध्यक्षता वेस्ट इंडीज के पूर्व कप्तान क्लाइव लॉयड कर रहे हैं. पैनल में भारत के रवि शास्त्री, इंग्लैंड के एंगस फ्रेजर, जिम्बाब्वे के डंकन फ्लेचर और ऑस्ट्रेलिया के मैथ्यू हेडन भी होंगे. यह पैनल साल की टेस्ट और वनडे टीम भी चुनेगी.

आईसीसी अध्यक्ष शरद पवार ने कहा कि वह इस आयोजन को लेकर उत्साहित हैं. जुलाई में पद संभालने के बाद आईसीसी का यह पहला बड़ा आयोजन होगा. पवार ने कहा, "यह भारत के लिए सम्मान की बात है कि यहां एलजी आईसीसी अवार्ड आयोजित हो रहे हैं. पुरस्कारों की शुरुआत 2004 में हुई थी."

रिपोर्टः पीटीआई/ए जमाल

संपादनः एन रंजन

WWW-Links