1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

आईपीएल के लिए कोई बुलावा नहीं आयाः गांगुली

भारत के पूर्व क्रिकेट कप्तान सौरव गांगुली को तो आईपीएल मकी बोलियों में पूरी तरह अनदेखा कर दिया गया. अब गांगुली उन अफवाहों को झुठला रहे हैं जिनमें कोच्चि टीम से उनके लिए प्रस्ताव आने की बात हो रही थी.

default

भारत के सबसे सफल कप्तानों में गिने जाने वाले गांगुली ने कहा, "मुझे कोच्चि के बारे में ज्यादा नहीं पता, शायद आप लोगों को पता हो. अब तक मुझे किसी भी टीम से बुलावा नहीं आया है." मीडिया रिपोर्टों के अनुसार कोच्चि आईपीएल टीम ने बाकी टीमों से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट एनओसी की मांग की थी ताकि गांगुली को लिए जाने पर उन्हें कोई शिकायत न हो. आईपीएल नियमों के मुताबिक गांगुली आईपीएल बोलियों में तभी हिस्सा ले सकते हैं जब सारी दस टीमों को उनके शामिल होने से आपत्ति न हो और वे इस सिलसिले में एक एनोसी पेश करने को तैयार हों.

उन्होंने कहा कि सचिन तेंदुलकर को भारत रत्न मिलना वाजिब है और वे इसके हकदार भी हैं, "जैसा मैंने पहले भी कहा है, उसे भारत रत्न मिलना चाहिए. भविष्य में मिलना चाहिए." क्रिकेट विश्व कप के बारे में उन्होंने फैंस से कहा कि उन्हें जीत या हार में कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का साथ देना चाहिए. "अगर हम जीतते हैं, तो बढ़िया है. लेकिन अगर हम नहीं भी जीतते हैं, हम तुम्हारा साथ देंगे. टीम बहुत ही सही और सुलझी है और लड़के भी बढ़िया हैं." हालांकि उनका कहना था कि टीम चुनने वालों को एक दूसरे विकेट कीपर और मीडियम पेसर श्रीसंत को चुनना चाहिए था. "जैसा मैंने पहले कहा था, श्रीसंत को लिया जाना चाहिए था. हर टीम के पास दो विकेटकीपर होंगे. इसलिए धोनी का फिट रहना बहुत जरूरी है."

बाकी टीमों के बारे में गांगुली ने कहा कि सारी टीमें अपने बेहतरीन खिलाड़ियों को लाएंगी. ऑस्ट्रेलिया के पास ब्रेट ली और शॉन टेट जैसे हमलावर हैं, दक्षिण अफ्रीका के पास जैक कालिस है और वेस्ट इंडीज भी अपने बल्लेबाजों को सही तरह सामने लाएंगे. खेल के वक्त पाकिस्तान के टीम की प्रतिभा भी बाहर आएगी.

रिपोर्टः पीटीआई/एम गोपालकृष्णन

संपादनः आभा एम

DW.COM

WWW-Links