1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

आईएस सिखा रहा है ट से टैंक, ग से गन

ऐसी खबरें हैं कि आईएस ने अपना पहला मोबाइल ऐप लॉन्च कर दिया है. यह ऐप बच्चों के लिए है जिसके जरिए उन्हें अरबी सिखाई जा रही है. और जानते हैं वर्णमाला कैसे सिखा रहे हैं? ट से टैंक, र से रॉकेट, ग से गन.

जिहादी संगठन इस्लामिक स्टेट की शाखा 'लाइब्रेरी ऑफ जील' ने बच्चों को अरबी सिखाने के लिए एंड्रॉइड ऐप जारी किया है. लॉन्ग वॉर जर्नल ने बताया है कि इसके लिए जो मिसालें दी गई हैं वे ज्यादातर जिहादी चीजों से ली गई हैं. इस ऐप को इस्लामिक स्टेट के टेलीग्राम चैनलों और फाइल शेयरिंग वेबसाइट पर जारी किया गया है.

जर्नल के मुताबिक ऐप्लिकेशन काफी आधुनिक है. इसमें अक्षर लिखना सीखने और याद रखने के लिए गेम्स दिए गए हैं. कुछ गाने भी हैं जो अक्षर सीखने के काम आएंगे. इन गानों में भी जिहादी शब्द खूब जोर-शोर से इस्तेमाल किए गए हैं. सेना और जंग में इस्तेमाल होने वाले शब्दों की भरमार है. यानी इस ऐप के जरिए पढ़ाई करने वाले बच्चे सबसे पहले टैंक, गन और रॉकेट जैसे शब्द सीखेंगे.

लॉन्ग वॉर जर्नल ने इस ऐप की कई तस्वीरें जारी की हैं. ऐप एकदम चटक रंगों में डिजाइन किया गया है, जैसा कि बच्चों के लिए बनाए गए किसी भी ऐप को होना चाहिए. लाइब्रेरी ऑफ जील ने इस बारे में एक प्रेस रिलीज भी जारी की है. इसमें ऐप के स्क्रीनशॉट्स जारी करते हुए बताया गया है कि इसे कैसे डाउनलोड किया जाए. रिलीज में कहा गया है, ''इस ऐप से बच्चों को वर्णमाला सिखा सकते हैं.''

वैसे यह इस्लामिक स्टेट का कोई पहला मोबाइल ऐप नहीं है. इससे पहले भी कई तरह के ऐप जारी किए जा चुके हैं लेकिन बच्चों के लिए यह पहला ऐप्लिकेशन है. इस जिहादी संगठन ने पहले भी कई वीडियो जारी किए हैं जिनमें बच्चे हथियार आदि की ट्रेनिंग लेते दिखाई दिए. कुछ वीडियो में बच्चों को सरकारी स्कूलों में जिहादी एजेंडा पढ़ते-सीखते भी दिखाया गया.

एक-दो वीडियो तो ऐसे भी आए जिनमें बच्चे कैदियों का सिर काट रहे थे. इस्लामिक स्टेट ने अपने कुछ बंधकों का कत्ल करने के लिए छोटे-छोटे बच्चों का इस्तेमाल किया और उनका वीडियो जारी कर दिया था.

DW.COM

संबंधित सामग्री