1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

अल्जीरिया ने इंग्लैंड को ड्रॉ पर रोका

इंग्लैंड की टीम वर्ल्ड कप में पहली जीत के लिए तरस गई है. ग्रुप स्टेज में अमेरिका के बाद अल्जीरिया ने भी उसे ड्रॉ पर रोक दिया है. टीम के खराब प्रदर्शन से कोच झल्लाए, कहा ये कोई टीम है. रूनी ने खींझ जाहिर की.

default

अल्जीरिया पड़े भारी

अल्जीरिया के खिलाफ वेन रूनी, लैंपार्ड और कोल जैसे स्टार खिलाड़ियों से सजी इंग्लैंड की टीम मैदान पर बिना गोल के इधर उधर भागती रही. कोच फैबिओ कैपेलो आदेश देते, चीखते और झल्लाते दिखे लेकिन नतीजा ड्रॉ ही निकला. इसके साथ ही अब इंग्लैंड के सामने वर्ल्ड कप में टिके रहना मुश्किल हो गया है.

WM Südafrika 2010 England vs Algerien Flash-Galerie

वेन रूनीः मुश्किल में

23 जून को टीम का आखिरी मुकाबला स्लोवेनिया से है. इंग्लैंड को वर्ल्ड कप में आगे बढ़ने के लिए यह मैच हर हाल में जीतना होगा और किस्मत के सहारे भी रहना होगा. ग्रुप सी में स्लोवेनिया अब चार अंकों के साथ सबसे ऊपर है. दूसरे स्थान पर अमेरिका है. इंग्लैंड तीसरे और अल्जीरिया चौथे नंबर पर है.

टीम के इस प्रदर्शन से इंग्लैंड के कोच फैबिओ कैपेलो खासे नाराज हैं. गुरुवार को मैच के बाद कोच ने पूरी टीम को लताड़ लगाते हुए कहा, ''यह वह टीम नहीं है जिसे मैंने ट्रेनिंग और क्वालिफाइंग राउंड में पहचाना था.''

WM Südafrika 2010 England vs Algerien Flash-Galerie

रूनी का जादू नहीं चला

कप्तान स्टीवन गेरार्ड पर भी दबाव बढ़ रहा है. मैच के बाद उन्होंने कहा, ''हम अपने प्रदर्शन से खुश नहीं हैं. अगर हम टूर्नामेंट में बने रहना चाहते हैं तो हमें अच्छा प्रदर्शन करना ही होगा. हमें अच्छा प्रदर्शन करना ही होगा.''

स्टार खिलाड़ी वेन रूनी ने तो अपना गुस्सा खुलकर इजहार भी कर दिया है. टेलीविजन कैमरे पर रूनी ने खुलकर टीम पर कटाक्ष करते हुए कहा, ''अपने ही प्रशसंकों को अपनी खिंचाई करते देख अच्छा लगता है.''

वैसे अफ्रीकी धरती पर इंग्लैंड के अलावा भी कई दिग्गज यूरोपीय टीमों की हालत खस्ता हो रही है. फ्रांस और स्पेन जैसी टीमें भी जीत और टूर्नामेंट में बने रहने के लिए के लिए छटपटा रही हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: एम गोपालकृष्णन