1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

अर्जेंटीना के फुटबॉल चीफ और मैनेजर पर बरसे माराडोना

महान फुटबॉलर डिएगो माराडोना ने अर्जेंटीना के फुटबॉल चीफ जूलियो ग्रोन्डोना पर झूठ बोलने और टीम मैनेजर कार्लोस बिलार्डो पर धोखेबाजी का आरोप लगाया. कोच पद से छुट्टी होने के पीछे माराडोना इन्हीं दोनों को जिम्मेदार मानते हैं.

default

जाते वक्त भावुक हुए माराडोना

ग्रोन्डोना और बिलार्डो के खिलाफ माराडोना जमकर बोले और उन्होंने अपने मन की भड़ास निकाली. बेहद भावुक नजर आ रहे माराडोना ने एक प्रेस कांफ्रेंस में कहा, "ग्रोन्डोना ने मुझसे झूठ बोला. बिलार्डो ने मुझे धोखा दिया. दक्षिण अफ्रीका में वर्ल्ड कप से बाहर होने के बाद ग्रोन्डोना ड्रेसिंग रूम में मेरे पास आए और सबके सामने कहा कि वह मेरे काम से खुश हैं और चाहते हैं कि मैं अर्जेंटीना का कोच बना रहूं."

माराडोना के मुताबिक उनके अर्जेंटीना पहुंचते ही स्थिति एकदम बदल गई और इस कहानी में नया मोड़ आ गया. "ग्रोन्डोना ने कहा कि वह मुझे कोच तो बनाए रखना चाहते हैं लेकिन मेरे स्टाफ के सात लोगों को बाहर का रास्ता दिखाना चाहते हैं. यह बात कहकर वह एक तरह से मुझे कह रहे थे कि वे मुझे कोच नहीं बनाए रखना चाहते हैं. वह जानते हैं कि मेरे साथियों के बिना मैं कोच नहीं बना रह सकता."

Argentinien Fussball Diego Maradona

ग्रोन्डानो ने बिलार्डो पर खरी खोटी सुनाई. बिलार्डो 1986 में वर्ल्ड कप जीतने वाली अर्जेंटीना की टीम के कोच थे. 1986 वर्ल्ड कप में डिएगो माराडोना ने सपनीला प्रदर्शन कर अर्जेंटीना को वर्ल्ड कप जीतने में अग्रणी भूमिका निभाई थी. माराडोना ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका में वर्ल्ड कप से बाहर होने के बाद जब सब लोग शोक की मुद्रा में थे तो बिलार्डो गुपचुप तरीके से उन्हें बाहर निकालने की कोशिशों में जुटे थे.

माराडोना अर्जेंटीना की फुटबॉल टीम के कोच 2008 में बने थे लेकिन अब उन्हें कोच पद से हटा दिया गया है. अर्जेंटीना की जर्मनी के हाथों 4-0 से शर्मनाक हार के बाद माराडोना ने स्पष्ट कर दिया था कि वह तब तक कोच बने रहना चाहते हैं जब तक उन्हें अपना स्टाफ रखने की अनुमति होगी. माराडोना ने साफ शब्दों में कह दिया था कि वह कोच की जिम्मेदारी निभाना तो चाहते हैं लेकिन सब कुछ ग्रोन्डोना पर निर्भर करता है. अगर उनके स्टाफ को हटाया गया तो फिर वह हट जाएंगे.

मीडिया में ऐसी रिपोर्टें हैं कि ग्रोन्डोना माराडोना के स्टाफ को हटाना चाहते थे और यही मुद्दा आखिर में निर्णायक साबित हुआ. हालांकि माराडोना का कोच पद से जाना लोगों को नागवार गुजरा है और आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है. ग्रोन्डोना के अलावा बिलार्डो पर निशाना साधा जा रहा है. माराडोना के नजदीकी लोगों का कहना है कि उन्हें हटवाने के पीछे बिलार्डो का ही हाथ है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: वी कुमार

DW.COM

WWW-Links