1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

अयोध्या विवाद पर सुलह की नई पहल

अयोध्या की विवादित जमीन के लिए आपसी समझौते की कोशिशें शुरू हो गई है. इलाहाबाद हाईकोर्ट के फैसले के तीन दिन बाद दोनों पक्षों के अहम लोगों ने मुलाकात की है. कहा, मित्रतापूर्ण हल निकालना चाहिए.

default

कई साल तक अयोध्या केस लड़ने वाले मोहम्मद हाशिम अंसारी ने रविवार को अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत ज्ञान दास से मुलाकात की. दोनों ने आपसी सुलह से विवाद सुलझाने की संभावनाएं तलाशी. मुलाकात करीब घंटे भर चली. इसके बाद 90 साल के अंसारी ने कहा, ''सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड के कहने पर मैनें बातचीत की पहल की.''

सुलह की संभावनाओं पर अंसारी ने कहा, ''अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद मध्यस्थता की कोशिश में अहम भूमिका निभाएगा. ज्ञान दास निर्मोही अखाड़े से बात करेंगे. यह विवाद अयोध्या में ही सुलझाया जाएगा. अब वक्त आ गया है कि कोई सौहार्दपूर्ण हल निकाला जाए.'' हालांकि वक्फ बोर्ड के सलाहकार जाफरयाब गिलानी का कहना है कि उन्हें सुलह को लेकर हो रही बातचीत की जानकार नहीं हैं.

इलाहाबाद हाईकोर्ट अयोध्या की विवादित जमीन को तीन हिस्सों में बांटने का फैसला कर चुका है. एक तिहाई जमीन निर्मोही अखाड़े को दी गई है. जबकि बाकी जमीन दो हिस्सों में वक्फ बोर्ड और राम जन्म भूमि न्यास के बीच बांटी जानी है. दोनों पक्ष इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने की बात कह चुके हैं. विवादित जमीन पर फैसला शुक्रवार को आया था. शनिवार और रविवार की छुट्टी के बाद अब देखना है कि सोमवार को दोनों पक्ष सुप्रीम कोर्ट जाते हैं या नहीं.

रिपोर्ट: पीटीआई/ ओ सिंह

संपादन: एमजी

DW.COM

WWW-Links