1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

अयोध्या फैसले के लिए जंग जैसी तैयारी

अयोध्या के विवादित स्थल के मालिकाना हक के फैसले के दिन जैसे जैसे करीब आते जा रहे हैं वैसे वैसे दहशत बढ़ती जा रही है. दहशत की एक बड़ी वजह यूपी सरकार की अभूतपूर्व तैयारियां भी हैं.

default

छावनी बनी अयोध्या

यूपी सरकार इस तरह तैयारी कर रही है जैसे कोई दुश्मन मुल्क हमला करने वाला हो. सभी सरकारी कर्मचारियों की छुट्टियां निरस्त कर दी गई हैं. पुलिस वालों को तो इन दिनों 18-18 घंटे की ड्यूटी करनी पड़ रही है.

सभी अस्पतालों को अलर्ट कर दिया गया है. निजी अस्पतालों को भी किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने को कहा गया है. सरकारी डॉक्टरों को अस्पताल में ही रुकने के इन्तजाम किये जा रहे हैं. इसके लिए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन से संपर्क किया गया है.

हर जिले में औसतन पांच-पांच अस्थाई जेल बनाई गई हैं. इसके लिए मैरिज हाल और इंटर कालेज परिसर खली करा लिए गए हैं. जिला प्रशासन से कहा गया है कि ऐसे स्थानों को चिन्हित करें जिन्हें तत्काल जेल में तब्दील किया जा सके और जहां आने जाने के रास्ते चौड़े हों.

जेल विभाग के डीआईजी एके पाण्डेय ने गुरुवार को मेरठ में इन तैयारियों का जायजा लिया. यूपी सरकार ने पुलिस के लिए 50 करोड़ की लागत से लाठी, डंडे, हेलमेट, टॉर्च आदि सामान खरीदने का आदेश जरी कर दिया है. होमगार्ड जवानों को प्रोटेक्टर और लाठी डंडों के लिए 16 करोड़ और पीआरडी जवानों को लाठी डंडों के लिए 6.5 करोड़ देने का फैसला किया गया है.

अयोध्या को पुलिस ने घेरा

फैजाबाद जिले में कुल 100 स्थानों को फ़ोर्स ठहराने के लिए चिन्हित किया गया है. इनमें 80 स्थान फैजाबाद-अयोध्या में ही हैं. अयोध्या में केंद्रीय सुरक्षा बालों के आने का सिलसिला शुरू हो चुका है. अब तक छह कम्पनी सीआरपीएफ़, 10 लम्पन्य पीऐसी, 7 कम्पनी डिस्ट्रिक्ट आर्म्ड फ़ोर्स और 270 होमगार्ड जवान अपनी आमद दर्ज करा चुके हैं.

यूपी सरकार ने केंद्र से 620 कंपनी सुरक्षा बल मांगे हैं. केंद्रीय कबिनेट ने भी कल एक प्रस्ताव पास कर देशवासियों से शांति की अपील की है. कबिनेट ने कहा के अदालत के फैसले को सभी पक्षों को स्वीकार करना चाहिए. केंद्र सरकार की ओर से आज के सभी अख़बारों में आधे आधे पेज के विज्ञापन भी छपे हैं जिनमे प्रधानमंत्री ने सुरक्षा की अपील की है.

फैजाबाद के सभी स्कूल कॉलेज बंद हो चुके हैं. इनमे फ़ोर्स ठहराई गई है. अयोध्या के लगभग सभी होटलों और धर्मशालाओं को खली करा कर फ़ोर्स के हवाले कर दिया गया है. वीएचपी का राम सेवक पुरम भी इस बार सुरक्षाबलों से भरा पड़ा है. पूरी अयोध्या को पुलिस, पीएसी और केंद्रीय सुरक्षा बालों ने अपने घेरे में ले लिया है. रेलवे और बस स्टेशन समेत हर एंट्री पॉइंट पर ज़बरदस्त जांच हो रही है.

रिपोर्टः लखनऊ से सुहेल वहीद

संपादनः वी कुमार

WWW-Links

संबंधित सामग्री