1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

अयोध्या पर मिले शंकराचार्य और कल्बे जव्वाद

अखिल भारतीय मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के एक प्रमुख सदस्य ने अयोध्या मसले पर हिंदुओं और मुसलमानों के बीच समझौते के लिए नई दिल्ली में जगतगुरु शंकराचार्य से बातचीत की.

default

समझौते की बात

मौलाना कल्बे जव्वाद और जगतगुरु शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती की बातचीत ऐसे समय में हुई है जब अयोध्या विवाद के मुख्य प्रतिद्वंद्वियों हाशिम अंसारी और अखारा परिषद के महंत ज्ञान दास की बातचीत विफल हो गई है और दोनों पार्टियां सुप्रीम कोर्ट में अपील करने की तैयारी कर रही हैं.

प्रसिद्ध शिया विद्वान कल्बे जवाद ने बातचीत के बाद कहा, "आज की बैठक दोनों समुदायों के बीच बेहतर समझदारी तैयार करने और विवाद को निबटाने की ईमानदार कोशिश के लिए एक दूसरे का रुख जानने पर लक्षित थी."

जव्वाद ने कहा, "अब तक विवाद को सुलझाने के लिए जो भी बातचीत हुई है वह निचले स्तर पर हुई है और दोनों समुदायों के अनुभवी और वरिष्ठ नेता उससे दूर रहे हैं, और हम दोनों ने सोचा कि यह न सिर्फ इस मुद्दे के लिए बल्कि एक दूसरे की बेहतर समझ के लिए भी जरूरी है."

जव्वाद ने शंकराचार्य से अपनी बातचीत को व्यक्तिगत स्तर पर हुई बातचीत बताते हुए कहा कि उन्होंने मामले को सुलझाने के लिए कोई प्रस्ताव नहीं दिया लेकिन शंकराचार्य ने उनसे पहल करने और मुस्लिम नेताओं से बात करने को कहा है. शिया नेता ने कहा कि शंकराचार्य ने उनसे कहा है कि वे भी हिंदू नेताओं के साथ इस सिलसिले में बात करेंगे.

जव्वाद ने स्पष्ट किया कि इस बातचीत का दोनों ही पार्टियों द्वारा सुप्रीम कोर्ट में अपील करने के फैसले पर कोई असर नहीं होगा.

रिपोर्ट: एजेंसियां/महेश झा

संपादन: एम गोपालकृष्णन

DW.COM

संबंधित सामग्री