1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

अमेरिकी सीरियल किलर ने क्यों मांगी मौत की सजा?

चार किशोरियों की हत्या और कई लड़कियों के बलात्कार के दोषी अमेरिकी शख्स को पिछले दिनों मौत की सजा दी जानी थी लेकिन कुछ ही घंटे पहले उसकी मौत की सजा मुल्तवी कर दी गयी. एलेन शोर ने अदालत से खुद ही मौत की सजा मांगी थी.

न्याय विभाग की तरफ से कहा गया है कि एलन एंथनी शोर को अब 18 जनवरी को सजा दी जाएगी. दरअसल न्याय विभाग इस बीच एक और मामले की जांच पूरी कर लेना चाहता है. यह मामला 19 साल की मेलिसा ट्रॉटर का है जिनकी 1998 में हत्या कर दी गयी. कहा जा रहा है कि उनकी हत्या के लिए दोषी ठहराये गये लैरी स्वियरिंगेन ने एलन शोर को मेलिसा ट्रॉटर की हत्या कबूलने के लिए कहा है. स्वियरिंगेन ने कथित रूप से बताया है कि उसके वकीलों ने एलन शोर से बात की थी लेकिन वह तैयार नहीं हुआ. न्याय विभाग के मुताबिक स्वियरिंगन इससे पहले ही इस तरह की कोशिशें कर चुका है हालांकि उसे सफलता नहीं मिली.

खिड़कियों के पर्दे में लगी डोरी को लपेटने के लिए घुमाने वाली छड़ी 21 साल की एक महिला के गले में पड़ी हुई थी. 1992 में इस महिला का शव ह्यूस्टन की एक सड़क के पास पड़ा मिला. उसका गला घोंट दिया गया था. मारिया डेल कारमेन एस्त्रादा की हत्या का मामला एक दशक से ज्यादा वक्त तक अनसुलझा रहा. आखिरकार शव के साथ मिले नाखून के एक टुकड़े का मिलान जब सेक्स अपराधी एंथनी एलेन शोर के डीएनए से हुआ तब पता चला कि यह हत्या उसी ने की थी. "टूअनिकेट किलर" के रूप में कुख्यात शोर को बीते दिनों जहर वाली सूई से मौत की सजा दी जानी थी.

शोर इस साल टेक्सस का सातवां कैदी है जिसे मौत की सजा दी जा रही है. वह अमेरिका में इस साल मौत की सजा पाने वाला 21वां शख्स है पिछले साल की तुलना में यह संख्या अब तक एक ज्यादा है.

पुलिस ने जब शोर को गिरफ्तार किया तब उस पर पहले से ही यौन दुर्व्यवहार के दो मामलों में जांच चल रही थी. शोर ने एस्त्रादा के साथ ही तीन और हत्याओं की बात कबूली. इसमें एक 9 साल की लड़की और दो किशोरी बच्चियां थीं. ये सब हिस्पानियाई थे. इन सबके साथ उसने यौन दुर्व्यवहार भी किया था.

शोर एक ट्रक ड्राइवर, फोन कंपनी में मैकेनिक और पार्टटाइम संगीतकार रह चुका था. उसने एस्त्रादा के बारे में जांचकर्ताओं को बताया, "मेरे दिमाग में ये बातें गूंज रही थीं कि मैं उसे पा लूंगा, चाहे कुछ भी हो किसी ना किसी रूप में मैं उसे अपने पास रखूंगा." 16 अप्रैल 1992 की सुबह 6.30 बजे एस्त्रादा पैदल अपने काम पर जा रही थी, तभी शोर ने उसे अपनी गाड़ी में आने का न्यौता दिया जिसे उसने स्वीकार कर लिया. इसके करीब 5 साल के बाद शोर का डीएनए राज्य के डाटाबेस में पहुंचा जिसका मिलान एस्त्रादा की मौत से हुआ.

2004 में ट्रायल के दौरान उसने एस्त्रादा की हत्या की बात कबूली और डीएनए मिलान को सबूत के रूप में पेश किया गया. इसके बाद ज्यूरी ने उसे हत्या का दोषी माना. अगले दिन शोर के वकीलों ने ज्यूरी को बताया कि शोर मौत की सजा चाहता है. इसके बाद ज्यूरी ने चार दिन तक और सुनवाई की जिसमें तीन और हत्याओं के सबूत पेश किये गये, साथ ही तीन दूसरी महिलाओं ने बलात्कार के दोषी के रूप में उसकी पहचान की.

आखिरकार ट्रायल के दौरान जजों ने शोर को बताया कि उसके वकीलों ने कहा है कि वह मौत की सजा चाहता है क्या यह सच है? शोर ने कहा, "हां यह बिल्कुल सच है." इसके बाद हैरीस काउंटी की जूरी ने फैसला लिया कि उसे मर जाना चाहिए.

शोर की तरफ से अपील करने वाले वकीलों की दलील थी कि बचपन के दिनों में उसके दिमाग में कोई परेशानी हुई थी. मौत की सजा मांगने के पीछे भी इसी परेशानी को कारण बता कर ज्यूरी के फैसले के खिलाफ अपील भी की गयी. अमेरिका के सुप्रीम कोर्ट ने दो हफ्ते पहले इस अपील को खारिज कर दिया और इस पर दोबारा विचार करने से भी मना किया. सोमवार को सजा माफ करने के लिए बने छह सदस्यों वाले बोर्ड ने भी सर्वसम्मति से शोर की सजा माफ करने से मना कर दिया.

हैरिस काउंटी के डिस्ट्रीक्ट अटॉर्नी किम ओग ने शोर को "असली सीरियल किलर" कहा था जो युवा हिस्पानियाई महिलाओं को ह्यूस्टन में कई सालों तक भयभीत करता रहा. एस्त्रादा के अलावा शोर ने 15 साल की लॉरी ट्रेम्बले, 9 साल की डायना रेडबॉलर और 16 साल की डाना सांचेज की हत्या कबूली. 

एनआर/एके (एपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री