1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

अमेरिकी द्वीप पर हमला करने को तैयार उत्तर कोरिया

उत्तर कोरिया, अमेरिका के गुआम द्वीप पर रॉकेट हमला करने की तैयारी कर रहा है. अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप की कड़ी चेतावनी के बाद उत्तर कोरिया ने इस योजना के साथ पलटवार किया है.

अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने चेतावनी देते हुए कहा कि उत्तर कोरिया "ऐसी आग और ऐसे प्रकोप का सामना करेगा जो दुनिया ने पहले कभी नहीं देखा है." अमेरिकी राष्ट्रपति की इस धमकी के कुछ देर बाद उत्तर कोरिया की सेना ने जवाब दिया. सेना के बयान का हवाला देते हुए उत्तर कोरिया के सरकारी टेलिविजन ने कहा कि, सेना गुआम पर मध्यम और लंबी दूरी के रॉकेटों से हमला करने की तैयारी कर रही है. प्रशांत महासागर का गुआम द्वीप अमेरिकी इलाका है. फिलीपींस और हवाई के बीच मौजूद गुआम द्वीप अमेरिका का सैनिक अड्डा है, जहां अहम बमवर्षक विमान तैनात हैं.

बुधवार को उत्तर कोरिया की सरकारी समाचार एजेंसी केसीएनए ने कहा, "गुआम के चारों ओर के इलाके पर हमले के ऑपरेशनल प्लान की सावधानीपूर्वक समीक्षा की जा रही है." उत्तर कोरिया मध्यम और लंबी दूरी की ह्वासॉन्ग-12 मिसाइलों के जरिये यह करना चाहता है.

हाल ही में गुआम में अमेरिकी सेना ने युद्धाभ्यास भी किया था.

Karte Guam Hawaii Nordkorea USA ENG

प्रशांत महासागर में गुआम की लोकेशन

541 वर्गकिलोमीटर क्षेत्रफल वाला गुआम द्वीप अमेरिका के पश्चिमी तट से करीब 11,000 किलोमीटर दूर है. उत्तर कोरिया से इसकी दूरी करीब 3,400 किलोमीटर है. बढ़ते तनाव का असर गुआम में रहने वाले 1,63,000 लोगों पर भी पड़ रहा है. गुआम के गर्वनर एडी बाजा काल्वो ने द्वीपवासियों से कहा है कि फिलहाल कोई खतरा नहीं है, लेकिन गुआम हर स्थिति के लिए तैयार है.

इस तरह के एक बार फिर अमेरिका और उत्तर कोरिया के बीच एक दूसरे को धमकाने का सिलसिला जारी है. हाल ही में संयुक्त राष्ट्र ने उत्तर कोरिया पर नए आर्थिक प्रतिबंध लगाए हैं. रूस और चीन ने भी इन प्रतिबंधों का समर्थन किया. प्रतिबंधों के बाद से ही उत्तर कोरिया बिफरा हुआ है. प्योंगयांग का कहना है कि प्रतिबंध उसकी "संप्रभुता का हिंसक रूप से उल्लंघन" करते हैं. उत्तर कोरिया ने अमेरिका को इन पाबंदियों की कीमत चुकाने की धमकी भी दी है.

तमाम अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों के बावजूद उत्तर कोरिया पांच बार परमाणु परीक्षण कर चुका है. इसी साल जुलाई में उसने एक महाद्वीप से दूसरे महाद्वीप तक मार करने वाली आईसीबीएम (इंटरकॉन्टिनेंटल बैलेस्टिक मिसाइल) की भी परीक्षण किया. प्योंगयांग का दावा है कि उसकी मिसाइलें अमेरिकी जमीन पर भी मार कर सकती हैं.

अमेरिका के दिग्गज अखबार वॉशिंगटन पोस्ट ने एक खुफिया अधिकारी के हवाले से कहा है कि उत्तर कोरिया ऐसे परमाणु हथिया बना रहा है जिनसे अमेरिका पर हमला किया जा सके. और ऐसा अनुमान से कहीं ज्यादा तेजी से किया जा रहा है. जापान सरकार के रक्षा मंत्रालय की रिपोर्ट में आशंका जताई गई है कि उत्तर कोरिया शायद परमाणु बम बना चुका है.

(कितना ताकतवर है उत्तर कोरिया​​​​​​​)

ओएसजे/एनआर (रॉयटर्स, एपी, डीपीए, एपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री