1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

अमेरिका में बवंडर, 90 से ज्यादा की मौत

अमेरिका के ओकलाहोमा राज्य में शक्तिशाली बवंडर के कहर से कम से कम 90 लोगों की मौत हो गई, जिनमें 20 से ज्यादा बच्चे शामिल हैं. लगभग 45 मिनट तक भयंकर तेज हवा की वजह से दो स्कूल भी उजड़ गए.

मेडिकल सूत्रों ने पहले मरने वालों की संख्या 51 बताई, लेकिन बाद में कहा कि मलबे से 40 और शव निकाले जाने का अंदेशा है. मरने वालों में कम से कम 20 स्कूली बच्चे हैं. एक स्कूल सीधे बवंडर के प्रभाव में आ गया, जबकि दूसरा इससे बुरी तरह प्रभावित हुआ. मूर शहर के पास आए इस बवंडर में लगभग 250 लोग घायल हैं, जिनमें करीब 60 बच्चे हैं.

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इसे बड़ी त्रासदी घोषित करते हुए इलाके में फौरन मदद के आदेश जारी कर दिए हैं. देर रात आए बवंडर की वजह से राहत दलों को वहां तक पहुंचने में दिक्कत हुई. मौसम विभाग का कहना है कि इलाके में और भी बवंडर आ सकते हैं. व्हाइट हाउस के अधिकारियों का कहना है कि राष्ट्रपति ओबामा को लगातार इस बारे में अपडेट दिया जा रहा है.

ठप पड़ी सेवाएं

तेज रफ्तार हवाओं के साथ लगभग 50,000 की आबादी वाले मूर शहर में बिजली गुल हो गई. अचानक शहर का बड़ा हिस्सा मलबे में बदल गया और कुछ घर पूरी तरह ढह गए. ओकलाहोमा के लेफ्टिनेंट गवर्नर टॉड लैंब ने बताया कि शहर में प्लाजा टावर के स्कूल पर बवंडर का सीधा असर पड़ा. एक दूसरा स्कूल और अस्पताल भी इस त्रासदी से प्रभावित हुए.

स्थानीय निवासी रिकी स्टोवर का घर मलबा बन चुका है. उन्होंने कहा, "हमें तो लगा कि हम मर चुके हैं क्योंकि मैं तहखाने के दरवाजे के बीच दबा था. बवंडर से दरवाजा खुल गया और शीशे तथा मलबे हमारे ऊपर गिरने लगे. सच में कहता हूं कि मुझे लगा कि हम मर चुके हैं."

राज्य मेडिकल दफ्तर का कहना है कि मरने वालों में कम से कम 20 बच्चे हैं, और इनमें से ज्यादातर की उम्र 12 साल से कम है. अमेरिकी मीडिया ने रिपोर्ट दी है कि किस तरह प्लाजा टावर से बच्चों को बाहर निकाला जा रहा था. चिंता के साए में खड़े अभिभावकों को दूर रहने के लिए कहा जा रहा था और स्कूल को पूरी तरह साफ करने की कोशिश की जा रही थी.

सिंडी क्रिस्टोफर काम के बाद अपने बच्चे को किंडरगार्डेन से लेने गईं, तभी उन्हें तेज रफ्तार हवा की आवाज सुनाई दी. बेटे को लेने के बाद वह अपनी कार से तेजी से भागीं, "मैं जितना तेज हो सकता था, उतना तेज कार चला रही थी और मैंने बवंडर को पछाड़ दिया."

320 किलोमीटर की रफ्तार

अमेरिका के राष्ट्रीय मौसम विभाग ने इस बवंडर को ईएफ (इनहैंस्ड फुजीटा) स्केल पर चौथी रैंकिंग दी है, जो दूसरी सबसे खतरनाक श्रेणी है. यह लगभग दो किलोमीटर के दायरे में फैला था, जो आम बवंडरों से बहुत ज्यादा है और 320 किलोमीटर की रफ्तार से बढ़ रहा था.

ओकलाहोमा राज्य की गवर्नर मेरी फैलिन ने कहा, "हमें पता है कि यह एक भयंकर बवंडर था. हमें पता है कि बहुत से लोग घायल हुए हैं. हमें पता है कि हमारे समुदाय के बहुत से ढांचों को नुकसान पहुंचा है." उन्होंने राज्य की 16 काउंटियों को आपदा क्षेत्र घोषित कर दिया है.

सुरक्षा की चिंता

पुलिस का कहना है कि सुरक्षा को लेकर चिंता बनी हुई है. गैस लाइनें, बिजली के कनेक्शन और दूसरी चीजों को फिर से दुरुस्त करना है.

ढाई सौ से 320 किलोमीटर की रफ्तार से चलने वाले हवे के कीपनुमा गुबार से बचने के लिए लोगों के पास वक्त नहीं था. सोमवार को आया यह बवंडर 1999 से ज्यादा खतरनाक बताया जा रहा है. उस वक्त कम से कम 44 लोगों की मौत हो गई थी और सैकड़ों लोग घायल हो गए थे. इसकी वजह से हजारों मकानों को नुकसान पहुंचा था. ओकलाहोमा राज्य की राजधानी ओकलाहोमा सिटी बवंडर से प्रभावित इलाकों में आती है.

एजेए/आईबी (एएफपी, रॉयटर्स)

DW.COM

WWW-Links