1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

अमेरिका की नौकायन में रोमांचक जीत

अमेरिका ने 34 साल बाद अमेरिका कप प्रतियोगिता जीती है. उन्होंने 1-8 से पिछड़ने के बाद दुनिया का सबसे बड़ा नौकायन खिताब जीता. टीम के कोच सर हेन एनस्ली ने कहा कि इस जीत से उनका सपना पूरा हुआ.

ब्रिटेन के एनस्ली ने अमेरिका की ओरेकल टीम की कमान छठी और सातवीं रेस के समय अपने हाथ में ली. उस समय टीम 8-1 से पीछे थी. अपनी प्रेरणा और रणनीति से एनस्ली ने ऐसा जादू किया कि टीम ने न्यूजीलैंड की एमीरेट्स टीम को 9-8 से हरा दिया. इस तरह नौकायन का दुनिया का सबसे बड़ा पुरस्कार अपने नाम कर लिया.

एनस्ली ने कहा, "अमेरिका कप जीतने वाली टीम का हिस्सा होना मेरे लिए जीवन भर का सपना था. मैं कॉर्नवेल के फैल्मथ में बड़ा हुआ. 1987 में वहां अमेरिका कप की टीम थी. मुझे याद है कि एक बच्चे के तौर पर मैं उन्हें ट्रेनिंग करते देखता और सोचता था कि शायद किसी दिन मैं भी अमेरिका कप से जुडूंगा."

ओरेकल टीम की शानदार सफलता का राज खोलते हुए एन्स्ली ने कहा, "हमने कभी ये विश्वास नहीं खोया कि हम मुकाबले में लौट सकते हैं. हमारे लिए हालात और मुश्किल हो रहे थे लेकिन हम लगे रहे और निर्णायक रेस जीत ली. टीम ने शानदार काम किया है. हम बढ़ते गए और आखिर में किवी खिलाड़ियों के लिए बहुत मजबूत साबित हुए."

एनस्ली के वॉर्म अप क्रू से हट कर कोस्टेकी की जगह पर जाना ओरेकल की किस्मत के लिए अच्छा साबित हुआ. उन्होंने कहा, "मैनेजमेंट के लिए यह बड़ा काम था लेकिन मैं जिमी स्पिटहिल के साथ अच्छे से घुल मिल गया था.

हमने चुनौती ली और हालात पलट दिए. हम सोच भी नहीं सकते कि दस दिन पहले हम कहां थे और हम वहां से आगे आ गए." उन्होंने यह जीत अपने गुजर चुके मित्र एंड्रयू सिंपसन को समर्पित की. इस साल मई में ट्रेनिंग के दौरान उनकी मौत हो गई थी. तब 34वें अमेरिका कप के आयोजन पर भी सवाल उठे थे. एनस्ली ने कहा, "मेरी रेस आज खत्म हुई. मैं अपने जीवन की सबसे बढ़िया रेस में शामिल था. लेकिन मैं और कुछ और साथी, हमारे विचार एंड्रयू और उसके परिवार के साथ थे. आज की रेस उनके लिए थी और उन्हें ये निश्चित पसंद आती."

रेस जीतने वाली पाल वाली नई नावें एसी72 कैटेमरैन बहुत तेज चलती हैं. 50 मील प्रति घंटा की रफ्तार तक पहुंचने वाली इन नावों को नियंत्रित करना बड़ी चुनौती और तेजी का काम है. एनस्ली कहते हैं, "यह हमारे खेल के लिए अच्छा है. ये देखना कि ये नावें 50 मील प्रति घंटा की रफ्तार से चलती हैं. प्रतियोगिता का जो वीडियो हमने देखा, इस तरह का कुछ हमारे खेल में पहले कभी नहीं हुआ था. यह भविष्य के लिए नए आयाम बनाता है, बहुत रोमांचक है."

ऑस्ट्रेलिया के स्पिटहिल ने अमेरिकी टीम की 22 मीटर की नाव को गाइड किया और 44 सेकेंड के अंतर से रेस जीत ली. सात रेसों का अंतर अमेरिकी टीम ने लगातार जीत से पाटा और आखिरी रेस के दौरान रोमांच चरम पर था.

अमेरिका कप न्यूजीलैंड ने पहली बार 1995 में जीता था और 2000 में इस पर कब्जा बनाए रखा था. तीन साल बाद उसे स्विट्जरलैंड की टीम ने हरा दिया. यह दुनिया का सबसे पुरानी खेल कप माना जाता है, जिसकी शुरुआत 1851 में हुई थी.

एएम/एजेए (एएफपी, डीपीए)