1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

अमेरिका और घाना में फुटबॉल का घमासान

वर्ल्ड कप में अफ्रीकी महाद्वीप की आखिरी उम्मीद को अपने कंधों पर लिए घाना शनिवार को अमेरिका की चुनौती का सामना करेगी. घाना अपने आखिरी लीग मैच में जर्मनी से हारने के बावजूद आखिरी 16 में जगह बनाने में कामयाब रही है.

default

वर्ल्ड कप कहीं खुशी की बाढ़ तो कहीं गम का पहाड़ लेकर आया है. लातिन अमेरिका में फुटबॉल का दीवानापन उछाल मार रहा है क्योंकि पांचों टीमें अगले दौर में पहुंच गई है. चिली आखिरी मैच में स्पेन से हार भले ही गया हो लेकिन फिर भी अंतिम 16 में पहुंच ही गया.

Mexiko Uruguay WM Weltmeisterschaft Fifa Fußball

लेकिन अफ्रीका में मायूसी है. वर्ल्ड कप खेलने के लिए उतरी छह में से पांच अफ्रीकी टीमें पहले दौर में ही बाहर हो गई हैं और इनमें मजबूत समझे जाने वाली आइवरी कोस्ट की टीम भी है.

एकमात्र अफ्रीकी चुनौती घाना के खिलाड़ी दबाव में होंगे लेकिन इसी दबाव में जोश भी घुला होगा. घाना ने वर्ल्ड कप में दो गोल किए लेकिन दोनों पेनल्टी के जरिए किए गए. इस मैच में घाना यह आंकड़ा बदलना चाहेगा.

अमेरिका ने वर्ल्ड कप में बढ़िया खेल दिखाया है और टीम संगठित नजर आ रही है. घाना के सर्बियाई कोच मिलोवान रायेवेच का कहना है कि वह बेहद भावुक हैं और उन्हें उम्मीद है कि दक्षिण अफ्रीकी समर्थकों से टीम को फायदा मिलेगा.

वैसे अफ्रीकी टीमों की विफलता ने अफ्रीकी फुटबॉल के लिए नए सिरे से सोचने के लिए मजबूर कर दिया है. विश्लेषकों का मानना है कि अगर कुछ बड़े अफ्रीकी खिलाड़ी यूरोपीय फुटबॉल लीग में खेलते भी हैं तो भी इससे अफ्रीकी देशों की राष्ट्रीय टीमों को फिलहाल फायदा नहीं हुआ है. वर्ल्ड कप से बाहर होने वाली आखिरी अफ्रीकी टीम आइवरी कोस्ट की है. उत्तर कोरिया को 3-0 से हराने के बावजूद टीम बाहर हो गई.

Fußball WM 2010 Südafrika Argentinien gegen Südkorea

अगर घाना यह मैच जीत जाती है तो कैमरून और सेनेगल की तरह वह भी एक रिकॉर्ड कायम करेगी. कैमरून ने 1990 और सेनेगल ने 2002 वर्ल्ड कप के क्वार्टर फाइनल तक पहुंच कर तहलका मचाया था.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: उ भ

संबंधित सामग्री