1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

अभी तो मैं जवान हूं: धर्मेंद्र

उम्र के 75 वसंत पार कर चुके धमेन्द्र कहते हैं कि वह अब भी जवान ही महसूस करते हैं. अपने जीवन से और बहुत कुछ चाहते हैं. जानना चाहते हैं कि मनुष्य कभी भी संतुष्ट और तृप्त क्यों नहीं हो पाता.

default

पर्दे पर ढिशुम धड़ाम करने के लिए मशहूर धर्मेन्द्र ने जन्मदिन के दिन शायरना अंदाज में कहा, "सब कुछ पाकर भी हासिल ए जिंदगी कुछ भी नहीं.....सब कुछ पाकर भी ये दिल धड़कता है...उस दिल के लिए जो धड़कता था कुछ पाने के लिए."

समचार एजेंसी पीटीआई से बातचीत के दौरान हैंडसम मैन धर्मेन्द्र ने कहा, "प्यार मोहब्बत, दुआएं जज्बातों को सींचती हैं, इसलिए आज भी जवान हूं, 75 साल का जवान हूं."

इसी साल धर्मेन्द्र को बॉलीवुड के पर्दे पर आए पचास साल हुए हैं. उनका कहना है कि उन्होंने फिल्म इंडस्ट्री को कभी भी अपने व्यवसाय की तरह नहीं लिया बल्कि उसे अपनी जिंदगी का एक हिस्सा माना. "ये मेरी प्रेमिका है और इससे मैं कभी भी अलग नहीं होना चाहता." 2007 में अपने और लाइफ इन मेट्रो के बाद धर्मेन्द्र की कोई फिल्म नहीं आई है.

Sholay Bollywood Film 1975

उन्होंने कहा, "ये मेरे जीवन का हिस्सा है. शोबिज कुछ नहीं है. अपने फैन्स के प्यार, शुभकामनाओं और स्नेह के कारण 75 साल की उम्र में भी मैं यंग बॉय हूं."

बॉलीवुड के ही मैन नाम से मशहूर धर्मेंन्द्र के नाम पर धरम वीर, शोले जैसी दर्जनों मशहूर फिल्में हैं. अगले महीने उनकी अपने बेटों सनी और बॉबी के साथ यमला पगला दीवाना फिल्म रिलीज हो रही है.

धर्मेन्द्र खुद को लकी मानते हैं क्योंकि जितना उन्होंने चाहा उससे कहीं ज्यादा उन्हें मिला है. पुराने दिनों को याद करते हुए धर्मेन्द्र कहते हैं, "उन्हें एक फ्लैट और फिएट कार की चाहत थी और उन्होंने प्रार्थना की कि देश भर में हमेशा उनके फिल्मी पोस्टर लगते रहें." ऐसा अब भी जारी है.

रिपोर्टः पीटीआई/आभा एम

संपादनः ओ सिंह

DW.COM

WWW-Links