1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

अब मोबाइल के लिए भी एंटीवायरस

कंप्यूटर के लिए एंटीवायरस बनाने वाली भारतीय कंपनी क्विक हील ने पीसी2 मोबाइल स्कैन के नाम से मोबाइल के लिए एंटीवायरस बनाया है. कंपनी का दावा है कि यह दुनिया का पहला मोबाइल एंटीवायरस है.

default

मोबाइल रहेगा सुरक्षित

कंपनी के निदेशक संजय काटकर ने बताया कि पीसी2मोबाइल स्कैन का इस्तेमाल कर कोई भी आसानी से पता लगा सकता है कि मोबाइल में कोई वायरस है या नहीं. इसके लिए किसी कंप्यूटर या लैपटॉप में पहले क्विक हील टोटल सिक्योरिटी 2010 प्रोग्राम को इंस्टॉल करना होगा. इसके बाद फोन को यूएसबी केबल के जरिए पीसी या लैपटॉप से जोड़कर वायरस को ढूंढा जा सकता है. अगर फोन और पीसी, दोनों में ब्लूटूथ हो तो यह काम बिना यूएसबी केबल के जरिए भी हो सकता है.

कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट अभिजीत जोरवेकर ने बताया कि आजकल इस्तेमाल हो रहे स्मार्टफोन्स की सिक्योरिटी को बहुत ज्यादा खतरा है, क्योंकि कंपनियों के अधिकारी अपने फोन का इस्तेमाल लैपटॉप की तरह करने लगे हैं. इसके कारण कंपनियों के डाटा में भी सेंध लगने के खतरे भी बढ़ गए हैं. हैकर और डाटा चोरी के धंधे में लगी कंपनियां इसका नाजायज़ फायदा उठा रही हैं. आने वाले दिनों में कार्पोरेट सेक्टर के लोगों को बड़े पैमाने पर इस खतरे से जूझना पड़ेगा. इसके अलावा आम लोग भी स्मार्टफोन्स को लैपटॉप और कंप्यूटर से जोड़ कर डाटा का लेनदेन करते रहते हैं. इसके अलावा ज्यादातर स्मार्टफोन्स का इस्तेमाल लोग इंटरनेट सर्फिंग और ईमेल के लिए भी करते हैं.

पीसी2मोबाइल स्कैन सबी मोबाइल प्लैटफॉर्म पर काम करता है. इसके साथ ही किसी भी कंपनी के मोबाइल फोन और किसी भी ऑपरेटिंग सिस्टर मे यह वायरस का पता लगाने में सक्षम है. भारतीय एंटीवायरस बाज़ार में क्विक हील का हिस्सा करीब 30 फीसदी का है

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः ए कुमार

DW.COM