1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

अब मेक अप भी हलाल

एक मुस्लिम महिला ने ब्रिटेन का पहला हलाल मेक अप बाजार में उतारा है. इसमें न तो अल्कोहल है और न ही जानवरों से बनी चीजों का इस्तेमाल हुआ है. व्यापारी समीना अख्तर ने इसे ‘समीना प्योर मेक अप’ नाम दिया है.

default

समीना ने बाजार में पहले से उपलब्ध बडी़ ब्रैंड्स मेक अप उत्पादों में मिलाई जाने वाली चीजों पर सवाल उठाया. इस्लाम के मुताबिक अल्कोहल और सूअर सहित कुछ जानवरों के मांस को हराम माना जाता है. समीना हैरान रह गई थीं जब उन्हें पता चला कि मेक अप के कुछ उत्पादों को बनाने के लिए सूअर की चर्बी और जिलेटिन का इस्तेमाल किया जाता है.

Anonymes Bild zum Thema Schminken

उन्होंने कहा, “एक मुसलमान होने के नाते मैं खुद से यह सवाल कर रही थी कि मैं अपनी त्वचा पर क्या लगा रही हूं. मैं जानना चाहती थी कि इस्लाम इसकी इजाजत देता है या नहीं.”

Montage Wave-Gotik-Treffen Leipzig 2010 Flash-Galerie

समीना का दावा है कि उन्होंने जो उत्पाद बनाए हैं वे पूरी तरह से इस्लाम के नियमों के मुताबिक हैं. मसलन उनकी लिपस्टिक और आई लाइनर पौधों से मिलने वाले खनिजों, तेलों और विटामिन से बने हैं. इन उत्पादों को जून की शुरुआत में मान्यता मिली और अब तक इनके 500 ग्राहक हैं.

समीना बताती हैं, “मुझ जैसी बहुत सी मुस्लिम औरतें हैं जो अच्छी दिखना चाहती हैं और अपने मजहब पर भी कायम रहना चाहती हैं. हमारा परेशान होना लाजमी है.” समीना की बनाई चीजें इंटरनेट पर बिकती हैं. वह बताती हैं कि उन्हें मलयेशिया, इंडोनेशिया और सिंगापुर से भी ऑर्डर्स मिले हैं.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ए जमाल

DW.COM

WWW-Links