1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

अब ज्यादा आक्रामक हैं खिलाड़ीः धोनी

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा है कि नो बॉल विवाद के बाद उनके खिलाड़ी और ज्यादा आक्रामक हो गए हैं. लेकिन साथ ही उन्होंने साफ किया कि टीम सावधान रहेगी और किसी तरह की हद को नहीं तोड़ेगी.

default

श्रीलंका में त्रिकोणीय सीरीज खेल रही भारतीय टीम को अपना अगला मैच रविवार को श्रीलंका से खेलना है. बीते सोमवार को भारत ने श्रीलंका को हरा दिया था. इस मैच में जब भारत को जीतने के लिए सिर्फ एक रन की जरूरत थी, तब वीरेंद्र सहवाग 99 रन पर खेल रहे थे. सभी विजयी रन के साथ सहवाग की सेंचुरी पूरी होने की उम्मीद कर रहे थे, लेकिन श्रीलंकाई गेंदबाज सूरज रणदीव ने जानबूझ कर नो बॉल फेंक दी. हालांकि सहवाग ने इस बॉल पर सिक्स लगाया, लेकिन भारत नो बॉल की वजह से जीत गया और सहवाग के खाते में रन नहीं जुड़े.

बाद में जांच के दौरान रणदीव को गलत व्यवहार का दोषी पाया गया और उन पर एक मैच का बैन लगा दिया गया. उन्हें उकसाने वाले तिलकरत्ने दिलशान पर भी जुर्माना किया गया. उनकी मैच फीस काटी गई.

अब फिर आमने सामने से पहले धोनी ने कहा, "इस घटना ने खिलाड़ियों में नया जोश भरा है. वे अब ज्यादा आक्रामक हैं. लेकिन मैदान पर आक्रामकता की भी एक सीमा होती है. हम उस सीमा को पार नहीं करना चाहते. फिर भी मैदान पर हम जितना आक्रामक हो सकते हैं, होंगे."
धोनी ने कहा कि बेशक जो कुछ हुआ वह अच्छा नहीं हुआ लेकिन बेहतर होगा कि इसे नजरअंदाज कर दिया जाए. उन्होंने कहा, "खेल पर ध्यान लगाना बेहद जरूरी है और हम मैदान पर वही करेंगे."

भारत और श्रीलंका का यह मैच काफी अहम है क्योंकि श्रीलंका को बारिश की वजह से अपने पिछले मैच में न्यूजीलैंड के साथ अंक बांटने पड़े. इसलिए सीरीज में बने रहने के लिए उसे भारत से हर हाल में जीतना है.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ओ सिंह

WWW-Links