अब जीमेल से फोन करें | विज्ञान | DW | 26.08.2010
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

विज्ञान

अब जीमेल से फोन करें

गूगल कंपनी ने कहा है जीमेल का इस्तेमाल करने वाले लोग अब इमेल से सीधे फोन कर सकते हैं. इसी के साथ गूगल सीधे स्काइप और पारंपरिक ऑपरेटर्स एटी एंड टी और वेरिज़ोन की प्रतियोगिता में खड़ा हो गया है.

default

बुधवार रात जब गूगल मेल इस्तेमाल करने वालों ने लॉग इन किया तो उन्हें गूगल कॉल के बारे में सूचना मिली. ये गूगल की नई सेवा है. गूगल से ये कॉल अमेरिका और कनाडा के लिए फ्री हैं और दूसरे देशों के लिए बहुत कम कीमत के साथ कॉल किया जा सकता है. ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी, चीन, जापान के लिए दो सेंट प्रति मिनट खर्च पर कॉल किया जा सकता है.

गूगल ने पहले से ही जीमेल में कंप्यूटर से कंप्यूटर वॉयस और वीडियो चैट शुरू कर दी है. बुधवार को गूगल ने कहा कि अब ये सीधे घर और मोबाइल पर फोन करने की सुविधा भी शुरू कर रहा है. जानकारों का कहना है कि ये सर्विस पारंपरिक फोन कंपनियों की तुलना में स्काइप को कड़ी टक्कर दे सकती है. स्काइप ने भारी प्रतियोगिता के कारण अपने कॉल रेट्स पिछले दिनों काफी कम किए हैं. हडसन स्क्वेयर के विश्लेषक टोड रेदेमायर का कहना है, "ये स्काइप के लिए खतरा है. ये ऐसा प्रतियोगी है जिसका ब्रैंड नेम बहुत अच्छा है."

Google Books Flash-Galerie

स्काइप की टक्कर में गूगल

निजी प्रतिभूति कंपनियों और ईबे की मिल्कियत वाले स्काइप ने लोगों को कंप्यूटर से फोन करने की सुविधा पहले से ही दे कर रखी है. स्काइप ने ही सबसे पहले कंप्यूटर से कंप्यूटर वॉयस और वीडियो चैट शुरू की थी. रेदेमायर कहते हैं कि गूगल की इस सर्विस का अंतरराष्ट्रीय कॉल्स में तो फायदा होगा लेकिन इससे घरेलू फोन को फायदा नहीं होगा. हालांकि पैसिफिक क्रेस्ट के विश्लेषक स्टीव क्लेमेंट कहते हैं, "जो उपभोक्ता इस तरह की सर्विस का इस्तेमाल करेगा, वो लैंड लाइन इस्तेमाल करने वाला पारंपरिक कस्टमर नहीं होगा."

गूगल का कहना है कि मेल से कॉल करना बिलकुल फोन की तरह होगा. जीमेल का इस्तेमाल करने वाला व्यक्ति कॉल फोन के विकल्प पर क्लिक कर सकता है और फिर जिससे बात करनी है उसका नंबर टाइप कर सकता है.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः महेश झा