1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

'अपराधियों' का चुनाव

ओडिशा में 77 विधानसभा सीटों के लिए खड़े कुल 747 प्रत्याशियों में से 144 उम्मीदवारों के खिलाफ हत्या, दुष्कर्म, महिलाओं के खिलाफ अपराध और अपहरण जैसे बेहद संगीन मामले दर्ज हैं.

ओडिशा इलेक्शन वॉच (ओईडब्ल्यू) और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म (एडीआर) के अध्ययन में पता चला है कि ओडिशा विधानसभा चुनावों में शामिल हो रहे 747 उम्मीदवारों में से 744 ने स्वत: प्रमाणित हलफनामा दाखिल किया है. इनमें से 186 प्रत्याशियों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज होने की बात कबूल की है.

144 प्रत्याशियों ने कबूला कि उनके खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं. पार्टीवार उम्मीदवारों की अगर बात की जाए तो कांग्रेस प्रत्याशियों के खिलाफ सबसे अधिक मामले दर्ज हैं. राहुल गांधी की पार्टी के 39 प्रत्याशी आपराधिक पृष्ठभूमि वाले हैं. लोकसभा चुनावों में सुशासन का नारा भर रही बीजेपी के 34 उम्मीदवारों गंभीर अपराध के सिलसिले में नामजद हैं.

सत्ताधारी बीजू जनता दल के 17 उम्मीदवार भी दागदार हैं. वहीं ईमानदारी और स्वच्छ छवि की लंबी लंबी बातें करने वाली आम आदमी पार्टी के नौ प्रत्याशियों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं.

इनमें से कुल 21 उम्मीदवार हत्या या हत्या की कोशिश जैसे जघन्य अपराध के मुकदमों में फंसे हैं. 20 उम्मीदवारों पर महिलाओं के खिलाफ अपराध और चार उम्मीदवारों के खिलाफ उत्पीड़न अथवा छेड़छाड़ के मामले दर्ज हैं. एक प्रत्याशी के खिलाफ बलात्कार, अपहरण तथा शादी के लिए महिला पर दबाव बनाने का मामला दर्ज है.

ओएसजे/एएम (वार्ता)

संबंधित सामग्री