1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

अनुशासन समिति से जेटली, अमीन को हटाओ: मोदी

आईपीएल के निलंबित कमिश्नर ललित मोदी ने बीसीसीआई अनुशासन समिति से अरुण जेटली और चिरायु अमीन को हटाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की. अनुशासन समिति मोदी पर लगे वित्तीय धांधली के आरोपों की जांच कर रही है.

default

ललित मोदी ने कहा है कि तीन सदस्यीय अनुशासन समिति में शामिल अरुण जेटली और चिरायु अमीन के उनके प्रति निष्पक्ष होने की संभावना नहीं है. अनुशासन समिति में तीसरे सदस्य के रूप में कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया शामिल हैं. 15 जुलाई को बॉम्बे हाई कोर्ट ने अनुशासन समिति की कार्रवाई पर रोक लगाने की याचिका खारिज कर दी थी जिसके बाद ललित मोदी ने अब सुप्रीम कोर्ट में हाई कोर्ट के फैसले को चुनौती दी है.

बॉम्बे हाई कोर्ट में ललित मोदी ने बीसीसीआई की ओर से चुनी गई अनुशासन समिति को फिर से गठित किए जाने की मांग की थी. मोदी ने बीसीसीआई से उनके निलंबन के फैसले को भी चुनौती दी है.

मोदी की दलील है कि बीसीसीआई सचिव एन श्रीनिवासन ने सिर्फ मीडिया रिपोर्टों और बाहरी लोगों की शिकायत के आधार पर ही उनके खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी जबकि शिकायत करने वाले ये लोग न तो क्रिकेट बोर्ड से जुड़े हैं और न प्रशासक हैं.

हाई कोर्ट ने मोदी की याचिका खारिज कर दी जिसमें उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से रिटायर्ड जजों के एक ट्राइब्यूनल से जांच कराने की मांग की. अब सुप्रीम कोर्ट में दायर याचिका में मोदी ने कहा है कि सभी आरोपों की स्वतंत्र और निष्पक्ष तरीके से जांच होनी चाहिए. यानी मोदी चाहते हैं कि चेन्नई सुपर किंग्स के मालिक एन श्रीनिवासन पर हितों के टकराव की भी जांच हों क्योंकि आईपीएल फ्रैंचाइजी के मालिक होने के साथ साथ वह बीसीसीआई में पद भी संभाले हुए हैं.

एक समय ललित मोदी का आईपीएल में सिक्का चलता था लेकिन पूर्व विदेश राज्यमंत्री से विवाद के बाद उनके सितारे गर्दिश में आ गए. उन पर आईपीएल में वित्तीय धांधलियां बरतने के आरोप लगे जिसके चलते अब बीसीसीआई से उनकी कानूनी लड़ाई चल रही है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: ओ सिंह

DW.COM

WWW-Links