1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

अनिल ने मुकेश अंबानी से मुकदमा वापस लिया

रिलायंस के अनिल अंबानी ने अपने बड़े भाई मुकेश अंबानी पर किया गया 10,000 करोड़ रुपये का मानहानि का मुकदमा वापस ले लिया है. उन्होंने बॉम्बे हाई कोर्ट में यह केस किया था. हाल ही में दोनों भाइयों में सुलह हुई है.

default

अनिल अंबानी ग्रुप के प्रवक्ता ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया, "हां, यह सच है कि हमने मंगलवार को वह मुकदमा वापस ले लिया, जिसमें मानहानि के तौर पर 10,000 करोड़ रुपये का केस ठोंका गया था."

अनिल अंबानी ने सितंबर 2008 में मुकेश अंबानी पर उस वक्त यह मुकदमा किया था, जब अनिल अंबानी दक्षिण अफ्रीका की टेलीकॉम कंपनी एमटीएन को खरीदने की कोशिश कर रहे थे. उसी वक्त मुकेश की कंपनी आरआईएल ने एमटीएन को कानूनी नोटिस भेजा था. इस घटनाक्रम के बाद अनिल अंबानी ने कंपनी खरीदने की कोशिश छोड़ दी थी.

Flash-Galerie Mukesh Ambani

अनिल ने इसके बाद अपने बड़े भाई पर आरोप लगाया था कि मुकेश अंबानी ने न्यू यॉर्क टाइम्स को दिए इंटरव्यू में उनकी मानहानि की थी. इस इंटरव्यू को भारत के दो बड़े अखबारों ने दोबारा छापा था. समाचारपत्रों के खिलाफ दायर किया गया मुकदमा भी वापस ले लिया गया है.

अंबानी भाइयों ने लंबी तकरार के बाद पिछले महीने ही समझौता किया है. पिता धीरुभाई अंबानी की मौत के बाद से ही दोनों भाइयों में अनबन हो गई थी और बाद में मां कोकिला बेन की देख रेख में दोनों के बीच 2005 में कारोबार का बंटवारा हो गया था. इसके तहत दोनों भाइयों ने एक दूसरे से प्रतियोगिता नहीं करने का फैसला किया था. गैस लाइन विवाद पर भी दोनों भाइयों ने समझौता कर लिया है. इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने पिछले महीने फैसला सुनाया था.

दोनों भाइयों ने 2005 में अपने रास्ते अलग किए थे. पिछले पांच साल में दोनों का कारोबार बहुत बढ़ा और मुकेश अंबानी तो दुनिया के पांच सबसे रईस लोगों में गिने जाते हैं. लेकिन इन पांच सालों में से चार साल दोनों भाइयों ने कानूनी दांव पेंच में भी बिताए.

रिपोर्टः पीटीआई/ए जमाल

संपादनः राम यादव

संबंधित सामग्री