1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

Radio D Teil 2

अध्याय 36: लुडविष फान बेठोफेन

22 साल की उम्र में लुडविष फान बेठोफेन ने "Ode an die Freude" या आनंद गीत की रचना की थी, जो आज यूरोपीय संघ का औपचारिक संगीत है. एक रूपक के जरिये श्रोताओं को 18वीं सदी के बेठोफेन हाउस का परिचय मिलता है.

संगीतकार लुडविष फान बीथोवन की मूर्ति.

श्रोताओं को लुडविष फान बीथोवन के बारे में और जानकारी मिलती है.

लुडविष फान बेठोफेन बॉन नगर की सबसे परिचित संतानों में से एक हैं. पाउला और फिलिप उनकी प्रसिद्ध 9वीं सिंफनी की कहानी पेश करते हैं और मशहूर संगीतकार के जीवन की सबसे दुखद घटना के बारे में बताते हैं: उनका बहरा हो जाना.

अगर कोई बात समझ में न आए, तो उसे फिर से दोहराना काम आ सकता है. प्रोफेसर यहां dass के साथ शुरू होने वाले उपवाक्यों में अप्रत्यक्ष रूप पर ध्यान दे रहे हैं.

डाउनलोड